The news is by your side.

पीएलआई सभी बीमा कम्पनियों से बेहतर :पी.के. सिंह

-नवनियुक्त प्राइमरी अध्यापक को पीएलआई में सबसे अधिक फायदा

अयोध्या।पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस यानी डाक जीवन बीमा का दायरा भारतीय डाक विभाग ने बढ़ा दिया है. अभी तक कम कीमत वाली, लेकिन भरोसेमंद इस बीमा पॉलिसी को सरकारी और अर्धसरकारी कंपनियों के कर्मचारी ही ले सकते थे. भारत सरकार की गारंटीशुदा पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस को अब डॉक्टर, इंजीनियर, प्रोफेशनल डिग्री धारक, मैनेंजमेंट कंसल्टेंट, चार्टर्ड एंकाउटेंट, आर्किटेक्ट, वकील, बैंकर समेत उन सभी कंपनियों के लोग खरीद सकते हैं, जिनकी कंपनी बीएसई या एनएसई में लिस्टेड है लेकिन सरकार ने अब इसका दायरा बढाते हुए स्नातक, डिप्लोमा डिग्री धारक को भी इस डाक जीवन बीमा योजना का लाभ देने का फैसला लिया है ।

Advertisements

इस दौरान भारत सरकार की डाक जीवन बीमा योजना से नवनियुक्त प्राइमरी अध्यापक व अन्य अध्यापकों को लाभ दिलवाने के लिए खूबियों से भेलसर व रौनाही उपडाकघर में सोहावल, डयोढ़ी, बड़ागांव, मवई, पटरंगा, रुदौली, आमानीगंज, तथा भेलसर, रौनाही के शाखा पोस्टमास्टर को रूबरू करवाया गया जिससे वह शिक्षकों को लाभ दे सकें । डाक मेला के दौरान अयोध्या मण्डल के प्रवर अधीक्षक डाकघर पी के सिंह ने बताया नवनियुक्त प्राइमरी अध्यापक, पुलिस कर्मियों को पीएलआई में सबसे अधिक फायदा है । साथ ही बताया कि पोस्टल इंश्योरेंस का दायरा इसलिए बढ़ाया गया है, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों को सामाजिक सुरक्षा का कवच मिल सके. साथ ही यह भी कहा कि पोस्टल इंशोरेस के साथ डाक विभाग का भरोसा जुड़ा है.

उन्होंने यह भी बताया कि डाक जीवन बीमा में बिचौलियों की कोई जगह न होने के कारण किश्त कम है और भुगतान अधिक है साथ ही इसका प्रीमियम प्राइवेट बीमा कंपनियों से ही नहीं बल्कि सभी बीमा कम्पनियों से भी कम है. यही नहीं इस पर बोनस भी ज्यादा मिलता है. पोस्टल इंशोरेस योजना देश की सबसे पुरानी बीमा योजना है, जिसकी शुरुआत 1884 में हुई थी. लेकिन पहले इसे सिर्फ सरकारी कर्मचारी ही ले सकते थे । लेकिन अब वकील, इंजीनियर डॉक्टर के साथ साथ स्नातक एवं डिप्लोमा डिग्री धारक भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं । इस योजना को समझते हुए कहा कि हम वकील, इंजीनियर डॉक्टर के साथ साथ स्नातक एवं डिप्लोमा डिग्री धारक के भविष्य की सुरक्षा को सवारने का सुनहरा अवसर प्रदान कर रहे हैं । इस दौरान सत्येन्द्र प्रताप सिंह, नितिन मिश्र, राज किशोर, अमित तिवारी अम्बिका दुबे सहित दर्जनों मौजूद रहे ।

Advertisements

Comments are closed.