The news is by your side.

मैकेनिकल इंजीनियरिंग के छात्रो को बतायी कैड-कैम की उपयोगिता

‘कम्प्यूटर एडेड डिजाईन और कम्प्यूटर एडेड मैन्युफैक्चरिंग’ (कैड-कैम)विषय पर कार्यशाला

अयोध्या। डॉ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के प्रौद्योगिकी एवं तकनीकी संस्थान व डॉ0 अम्बेडकर तकनीकी संस्थान, बेंगलुरु के संयुक्त संयोजन में मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग में ”कम्प्यूटर एडेड डिजाईन और कम्प्यूटर एडेड मैन्युफैक्चरिंग” (कैड-कैम) विषय पर एक सप्ताह की कार्यशाला आयोजन किया जा रहा है। कार्यशाला में दूसरे दिन आज दिनांक 26 मार्च, 2019 को मुख्य वक्ता एमिटी यूनिवर्सिटी, नोएडा के डॉ0 सुनील कुमार शर्मा रहे। अध्यक्षता संस्थान के निदेशक प्रो0 रमापति मिश्र ने की।
कार्यशाला को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता डॉ0 सुनील कुमार शर्मा ने रेल वाहन की गुणवत्ता में प्रयोग होने वाली मैग्नेटोरियोलाॅजीकल तथा पाश्र्व-प्रणाली की एकीकृत तकनीकी के बारे में छात्र-छात्राओं को बताया। रेल तकनीकी प्रणाली में सॉफ्टवेयर के उपयोग से होने वाली मल्टी बॉडी सिस्टम एंड व्हील रिस्पांस जनरेटर के बारे में विस्तार से प्रकाश डाला। अध्यक्षता कर रहे संस्थान के निदेशक प्रो0 रमापति मिश्र ने मैकेनिकल इंजीनियरिंग के छात्रो को कैड-कैम की उपयोगिता और उसके प्रयोग में लाने पर बल दिया। कार्यशाला में इं0 अनुराग सिंह, इं0 नितेश कुमार दीक्षित एवं इं0 दीपक अग्रवाल ने कैड कैम सॉफ्टवेयर को डिजाइनिंग एवं मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में एक क्रांतिकारी कदम बताते हुए इसके महत्व पर प्रकाश डाला। कार्यशाला में संस्थान के निदेशक द्वारा मुख्य वक्ता को स्मृति चिन्ह एवं अंगवस्त्रम भेटंकर सम्मानित किया गया। कार्यशाला में इं0 उमेश वर्मा, इं0 सुनील सहाय, इं0 रमेश यादव, डॉ0 सुधीर श्रीवास्तव इं0 अंकित श्रीवास्तव, इं0 दिलीप यादव, इं0 आशीष कुमार पाण्डेय, इं0 दिब्या त्रिपाठी, डॉ0 वंदिता पाण्डेय, डॉ0 प्रियंका श्रीवास्तव, इं0 चन्दन अरोड़ा, इं0 श्वेता मिश्र, इं0 आर के सिंह, इं.0 अतुल शर्मा, इं0 मनोज कुमार वर्मा, इं0 अखिल विक्रम यादव, इं0 रजनीश पाण्डेय एवं अन्य शिक्षक उपस्थित रहे।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.