The news is by your side.

अवध विश्वविद्यालय अंतिम वर्ष की मुख्य परीक्षा प्रारम्भ

कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह ने परीक्षा केन्द्रों का किया औचक निरीक्षण

अयोध्या। डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय की मुख्य परीक्षा आज 22 जुलाई, 2021 से कोविड प्रोटोकाॅल में शुरू हुई। विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित 383 केन्द्रों पर स्नातक एवं परास्नातक अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों ने दो पालियों में परीक्षा दी जिसमें 51 हजार 65 परीक्षार्थी सम्मिलित हुए। इसमें 1 हजार 563 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। परीक्षा की शुचिता को बनाये रखने के लिए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह की अगुवाई में अधिकारियों एवं पर्यवेक्षकों ने कई परीक्षा का केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया। परीक्षा कोविड-19 प्रोटोकाॅल में शुचिता के साथ होते हुए पाई गई।

Advertisements

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह ने प्रथम पाली में जवाहर लाल नेहरू स्मारक पीजी काॅलेज, बाराबंकी एवं कृष्णावती रामनरेश काॅलेज, अयोध्या के परीक्षा केन्द्र का औचक निरीक्षण किया। कुलपति ने परीक्षा कक्ष में जाकर छात्रों से परीक्षा की जानकारी प्राप्त की। कोविड प्रोटोकाॅल एवं सीसीटीवी की निगरानी में परीक्षा हो रही थी। इसी के साथ कुलपति ने परीक्षा केन्द्रों को केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा परीक्षा के सम्बन्ध में जारी एडवाइजरी का कड़ाई के साथ पालन करने का निर्देश दिया। इसी क्रम में विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक उमानाथ ने अयोध्या के विभिन्न परीक्षा केन्द्रों का सघन निरीक्षण किया। जिसमें प्रथम पाली में झुनझुनवाला महाविद्यालय, गुरूनानक काॅलेज, आईईटी एवं द्वितीय पाली में परमहंस डिग्री काॅलेज, साकेत महाविद्यालय एवं जयगणेश महाविद्यालय के परीक्षा केन्द्रों का जायजा लिया। परीक्षा शांतिपूर्ण एवं शुचिता के साथ कोविड-19 के दिए गये निर्देशों के अधीन पाई गई।

विश्वविद्यालय से सम्बद्ध महाविद्यालयों की मुख्य परीक्षा में स्नातक एवं परास्नातक के अंतिम वर्ष परीक्षार्थी दो पालियों में परीक्षा दे रहे है। प्रथम पाली की परीक्षा प्रातः 9 बजे से 10ः30 बजे तक सांय 3 बजे से 4ः30 बजे तक कुल डेढ़ घण्टे की परीक्षा दे रहे है। परीक्षा विभिन्न जनपदों में 16 अगस्त तक चलेगी। इसमें 1 लाख 55 हजार परीक्षार्थी परीक्षा देगें।

इसे भी पढ़े  भाकपा ही गरीबों, वंचितों व शोषितों की असली हितैषी : सूर्यकांत पांडेय

कुल सात जनपदों जिसमें अयोध्या, बाराबंकी, गोण्डा, अम्बेडकरनगर, बहराइच, सुल्तानपुर एवं अमेठी में कुल 383 परीक्षा केन्द्र बनाये गये है। इसके अतिरिक्त विश्वविद्यालय द्वारा 18 नोडल केन्द्र बनाये गये है। मुख्य परीक्षा की शुचिता को बनाये रखने के लिए परिसर में कंट्रोल कक्ष द्वारा सीसीटीवी कैमरे से परीक्षा केन्द्रों की निगरानी की जा रही है। इसके अतिरिक्त कुलपति प्रो0 सिंह के निर्देश पर पर्यवेक्षक एवं अधिकारी विभिन्न परीक्षा केन्द्रों का औचक निरीक्षण कर रहे है।

Advertisements

Comments are closed.