The news is by your side.

विवाद में चली गोली,एक की मौत, पिता-पुत्र घायल

-पूराकलंदर थाना क्षेत्र के अबनपुर सरोहा का मामला

अयोध्या। जनपद के पूराकलंदर थाना क्षेत्र के अबनपुर सरोहा गांव में मंगलवार की सुबह दो पक्षों में विवाद के फायरिंग में एक युवक की मौत हो गई,जबकि पिता-पुत्र घायल हो गए। एसएसपी समेत पुलिस अधिकारियों ने जिला अस्पताल और घटनास्थल का मौका मुआयना किया है। पुलिस ने पूछताछ के लिए तीन को हिरासत में लिया है। पीड़ित पक्ष ने कोई तहरीर पुलिस को नहीं दी है।

Advertisements

चार दिन पूर्व अवनपुर सरोहा गाँव निवासी बच्चों के बीच विवाद हुआ थ। सुबह लगभग 9 बजे इटौरा चौराहा स्थित एक कोचिंग संस्थान से बीसीए की कोचिंग पढ़कर लौट रहे दीपेंद्र सिंह को अभिषेक सिंह के भांजे शेखर सिंह उर्फ़ गोलू ने घर के समाने रोककर पूछताछ शुरू की तो विवाद और मारपीट हुई। अभिषेक सिंह के पक्ष से लाइसेंसी बंदूक से फायरिंग की गई , जिसमें 30 वर्षीय विवेक सिंह पुत्र समर बहादुर सिंह गंभीर रूप से घायल हो गया और 42 वर्षीय शैलेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ पंकज सिंह व उसके बेटे 21 वर्षीय दीपेंद्र सिंह को सर में चोटें आई। फायरिंग की घटना के बाद घायलों को जिला अस्पताल भेजवाया गया। जहां इमरजेंसी ड्यूटी पर तैनात डाक्टर आशीष श्रीवास्तव ने गोली से घायल युवक विवेक को मृत घोषित कर दिया, जबकि घायल बाप-बेटे का प्राथमिक उपचार किया गया है।

एसएसपी राजकरन नय्यर ने बताया कि पूराकलंदर थाना क्षेत्र में फायरिंग और मारपीट में एक युवक की मौत हुई है, जबकि बाप-बेटे घायल हुए हैं। पुलिस ने तीन को हिरासत में लिया है और पूछताछ की जा रही है। तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर अग्रिम विधिक कार्रवाई की जाएगी। मौके पर पुलिस बल तैनात किया गया है। पोस्टमार्टम की कार्रवाई कराई जा रही है।

इसे भी पढ़े  शिकारियों के डर से गायब हुए समदा में तैनात गार्ड

 

न हो पाया पोस्टमार्टम और न ही मेडिकल

-पूराकलंदर थाना क्षेत्र में गोली से हुई मौत के मामले में अभी मृतक विवेक सिंह का पोस्टमार्टम नहीं हो पाया। पुलिस की ओर से पोस्टमार्टम के लिए डाक्टरों का पैनल और वीडियोग्राफी की व्यवस्था कराई गई थी लेकिन अभी परिवार ने पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया है। परिवार को मुंबई से मृतक के बड़े भाई विमल सिंह के आने का इंतजार है जो वारदात की जानकारी के बाद मुंबई से घर के लिए निकल चुके हैं।

वहीं वारदात में घायल बाप-बेटे का मेडिको लीगल भी नहीं हो पाया। पूराकलंदर पुलिस की ओर से मेडिको लीगल के लिए कागज देर शाम अस्पताल भेजवाया गया तब तक नियमित चिकित्सक डा आशीष श्रीवास्तव की ड्यूटी खत्म हो चुकी थी। ड्यूटी पर मौजूद संविदा डाक्टर आशीष पाठक को मेडिको लीगल का अधिकार नहीं है। अधीक्षक विपिन वर्मा ने बताया कि नियमित चिकित्सक से मेडिको लीगल कराया जाएगा।

Advertisements

Comments are closed.