महिला पुलिस ने चलाया एंटी रोमियो अभियान

मनचले लड़कों को चेतावनी देकर छोड़ा

फैजाबाद। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. मनोज कुमार के निर्देश पर मंगलवार की सुबह महिला पुलिस ने एंटी रोमियो अभियान चलाया। जिसके तहत लड़कियों के स्कूल कॉलेज के आसपास मोटरसाइकिल से फर्राटा भर रहे शोहदों को रोककर महिला पुलिस कर्मचारियों ने पूछताछ की। उनके गाड़ी के कागजात देखें और पहली बार सख्त चेतावनी देकर छोड़ दिया। इस कार्रवाई को लेकर घंटों शहर के सिविल लाइन और कैंट एरिया में अफरा-तफरी का माहौल रहा।
महिला थानाध्यक्ष प्रियंका पांडे उप पुलिस निरीक्षक साधना सिंह सहित अन्य महिला पुलिसकर्मियों ने पुलिस की वर्दी की जगह सादे कपड़ों में लड़कियों के स्कूल के आस-पास चहल कदमी करती रही। जिसकी वजह से तमाम ऐसे मनचले किस्म के युवा यह नहीं समझ पाए कि जिन्हें सामान्य लड़की समझकर वह फर्राटा भरते हुए आ रहे हैं वह पुलिसकर्मी है। जब गाड़ियों के सामने खड़े होकर सलवार सूट पहने इन महिला पुलिसकर्मियों ने वाहन चालकों को रोका और उनकी तलाशी के साथ उनसे कागजात मांगे तब जाकर उन्हें एहसास हुआ कि यह लड़कियां कोई और नहीं बल्कि महिला पुलिसकर्मी है। जांच के दौरान तमाम वाहन चालकों के गाड़ियों के कागजात चेक किए गए और बेतरतीब तरीके से वाहन चला रहे कुछ लड़कों को सख्ती के साथ चेतावनी देकर महिला पुलिसकर्मियों ने छोड़ दिया । वाहन चेकिंग के दौरान जिन वाहनों के कागजात वहां स्वामियों के पास मौजूद थे उन्हें जाने दिया गया। एंटी रोमियो अभियान का नेतृत्व कर रही महिला थानाध्यक्ष प्रियंका पांडे ने कहा कि महिलाओं के साथ होने वाली आपराधिक घटनाओं और छात्राओं के साथ छेड़छाड़ की घटनाओं की रोकथाम के लिए यह विशेष अभियान चलाया जा रहा है और यह अभियान जारी रहेगा।

इसे भी पढ़े  संत सम्मेलन में कैलाश मानसरोवर को मुक्त कराने मांग

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More