कागजों पर ही बन्द हो रहे हैं अमान्य विद्यालय

    फर्जी पत्रावली दिखा कर स्कूल संचालक चला रहे अपना विद्यालय 

    Advertisement

    सोहावल-फैजाबाद।प्रशासन द्वारा गैर पंजीकृत एवं अमान्य विद्यालयों के खिलाफ चलाया जा रहा जाँच अभियान फेल है।बन्द कराये गये स्कूल केवल कागजों पर बन्द हैं।इनका संचालन कहीं जगह बदल कर किया जा रहा है,तो कहीं अधिकारियों को मानक कार्य वाही पूरा करने की फर्जी पत्रावली दिखा कर स्कूल संचालक अपना विद्यालय चला रहे है।
    मई माह में खण्ड शिक्षा क्षेत्र सोहावल में गैर मान्यता प्राप्त व अपंजीकृत स्कूलों की कराये गये सर्वे में 55 विद्यालय गैर मान्यता प्राप्त चिन्हित किये गये थे।जिनमें से आधे विद्यालयों तक ही जाँच अधिकारी पहुँचे और बन्द कराया गया।आधे तक कोई पहुचा ही नही अछूते रह गये।इसके लिए विद्यालय तन्त्र और जाँच अधिकारियों की मिली भगत का आरोप लगाया गया।पिछले गुरुवार और शुक्रवार को जाँच टीम ने करीब दर्जन भर उन्ही स्कूलों को दुबारा बन्द कराया और नोटिस दी गयी।जिन्हें मई में बन्द कराया गया था।प्राथमिक विद्यालय मोहरकली गोकुला अजय बाल विद्या मन्दिर सोहावल आर एस पब्लिक स्कूल देवराकोट पे सी डी एस स्कूल सरायनामु फ्यूचर पब्लिक स्कूल सोहावल चैराहा जैसी निजी शिक्षण संस्थाओ का हाल ऐसा ही है। जहाँ प्रशासन केवल खाना पूर्ति करने में जुटा है।पूछे जाने पर खण्ड शिक्षाधिकारी सियाराम वर्मा ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देशानुसार कार्यवाही चल रही है।जैसा निर्देश मिलेगा वैसी ही कार्यवाही की जायेगी और आगे भी यह अभियान चलता रहेगा।

    इसे भी पढ़े  जल पुलिस ने सरयू नदी में डूब रहे सगे भाइयों समेत तीन को बचाया