The news is by your side.

राममंदिर को लेकर हिंदुओं की भावनाओं से नहीं होनी चाहिए खिलवाड़ : उद्धव ठाकरे

  • शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने परिवार संग किया रामलला का दर्शन

  • कहा -सरकार बने या न बने राम मंदिर जरूर बनेगा

अयोध्या। धर्मनगरी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की तारीख को लेकर चल रही गहमा गहमी के बीच शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने रविवार को सुबह ही अपने परिवार के साथ रामलला का दर्शन किया और वापस अपने होटल में लौट आए। पंचवटी होटल में पत्रकारों से बातचीत में उद्धव ठाकरे ने कहा कि राममंदिर को लेकर हिंदुओं की भावनाओं से खिलवाड़ नहीं होना चाहिए। अब हिंदू ताकतवर हो गया है और अब मार नहीं खायेगा। उन्होंने कहा कि अगर मंदिर न बना तो 2019 में सरकार नहीं बनेगी। इस मुद्दे पर अगर सरकार अध्यादेश लाएगी तो शिवसेना उसका पूरा समर्थन करेगी। वहीं, उत्तर भारतीयों पर महाराष्ट्र में हो रहे हमले पर ठाकरे ने ऐसी बातों से इनकार किया है। ठाकरे ने कहा कि सरकार बने या न बने राम मंदिर जरूर बनेगा।
उद्धव ठाकरे ने कहा कि अयोध्या के संतों ने मुझे आशीर्वाद दिया है। मैंने उनको कहा कि जो काम हम शुरू करने वाले हैं वह उनके आशीर्वाद के बिना पूरा नहीं हो सकता है उद्धव ने साफ किया, उनका अयोध्या आने के पीछे कोई पिछा एजेंडा नहीं है। चुनाव में राम नाम के इस्तेमाल पर चेताते हुए शिवसेना प्रमुख ने केन्द्र सरकार पर सीधा निशाना साधा और कहा कि चुनाव में राम नाम का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए। उद्धव ने कहा कि जब कोर्ट ही मंदिर बनने का फैसला करेगा तो फिर राम का नाम न लें। अगर मामला अदालत के पास ही जाना है तो चुनाव के प्रचार के दरमियान उसे इस्तेमाल ना करें। बता दो की भाईयों और बहनों हमें माफ करो ये भी हमारा एक चुनावी जुमला था।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.