The news is by your side.

27-28 को राष्ट्रीय सेमिनार में जुटेंगे देश के प्रमुख दिग्गज वैज्ञानिक

डॉ0 राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के भौतिकी एवं इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग द्वारा आयोजित होगा दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार

अयोध्या। आगामी 27 व 28 फरवरी 2019 को डॉ0 राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के भौतिकी एवं इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग द्वारा आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार में देश के ख्यातिलब्ध शिक्षक, वैज्ञानिको व छात्रां का जमावङा होगा। यह राष्ट्रीय सेमिनार श्रीसेंट एडवांसमेंट इन मैटेरियल साइंस एंड इलेक्ट्रॉनिक्सश् विषय पर आयोजित किया जा रहा है। राष्ट्रीय सेमिनार का शुभारम्भ आगामी 27 फरवरी को विश्वविद्यालय के संत कबीर सभागार में होगा। इसके उद्घाटन सत्र के मुख्य अतिथि पद्मश्री, शांति स्वरूप भटनागर अवार्ड व गोयल इन फिजिकल साइंस अवार्ड से सम्मानित प्रो0 ओ0 एन0 श्रीवास्तव, एमिरेट्स प्रोफेसर बीएचयू करेंगें। सेमिनार में विशिष्ट अतिथि के रूप में शारदा विश्वविद्यालय ग्रेटर नोएडा के ऐमिरिट्स प्रो0 आर0एम0 मेहरा उपस्थित रहेंगे। जबकि 28 फरवरी 2019 को होने वाले समापन सत्र में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, नई दिल्ली के प्रोफेसर नीरज खरे मुख्य अतिथि होंगे। उद्घाटन सत्र एवं समापन सत्र विश्वविद्यालय के संत कबीर सभागार में 27 व 28 फरवरी को पूर्वाह्न 10 बजे तथा अपराहन 3 बजे सम्पन्न होगा जबकि 27 फरवरी को होने वाला सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम विश्वविद्यालय के विवेकानंद प्रेक्षागृह में रात्रि 7 बजे से 9 बजे तक होगी जिसमे बनारस की विख्यात लोक गायिका शैलबाला की प्रस्तुति होगी।
राष्ट्रीय सेमिनार के सम्बन्ध में विश्वविद्यालय के मीडिया प्रभारी प्रो0 के0के0 वर्मा ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि विश्वविद्यालय के कुलपति अचार्य मनोज दीक्षित की प्रेरणा से अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेस कोनियाप्स-2018 के सफल आयोजन के बाद भौतिकी एवं इलेक्ट्रानिक्स विभाग वर्तमान समय के समीचीन विषय पर राष्ट्रीय सेमिनार के आयोजन को लेकर काफी उत्साहित है। मैटेरियल साइंस और इलेक्ट्रॉनिक्स एक दूसरे के पूरक है नित्य नये-नये मैटेरियल्स के अविष्कार के कारण ही नये तकनीकी डिवाइस का अविष्कार संभव हो सका है।
सेमिनार के संयोजक एवं विभागाघ्यक्ष प्रो0 के0के0 वर्मा ने बताया कि दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार में 36 आमंत्रित व्याख्यान, 54 मौखिक व्याख्यान तथा 5 पोस्टर की प्रस्तुति होगी। यह सभी व्याख्यान सेमिनार के विषय से जुड़े चार बिन्दुओं पर आधारित होंगे। जिसमें मैटेरियल साइंस, मैथमेटिकल एंड कंप्यूटटेशनल टेक्निक्स, माइक्रोस्ट्रिप ऐन्टेना, इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस सिमुलेशन तथा न्यूरल नेटवर्क्स एण्ड आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस शामिल है। दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार में प्रो0 आर0एस0 तिवारी ;बी0एच0यू0द्ध, प्रो0 धर्मेंद्र सिंह (आई.आई.टी, रूड़की), प्रो0 सुग्रीव नाथ तिवारी ( डी0डी0यू0ए गोरखपुर), प्रो0 आर0के0 शुक्ला (लखनऊ विश्वविद्यालय), प्रो0 राजीव मनोहर (लखनऊ विश्वविद्यालय), प्रो0 एम0के0 पाण्डेय (लखनऊ विश्वविद्यालय), डॉ0 विजय नाथ (बी0आई0टी0 मेसरा), प्रो0 पी0पी0 सहाय(एम0एन0आई0टी0 प्रयागराज), बीएचयू के सहित प्रो0 अंचल श्रीवास्तव प्रो0 संजय श्रीवास्तव, डॉ0 अमितांशु पाण्डेय, डॉ0 चन्दन उपाध्याय, डॉ0 डी0के0 मिश्रा, डॉ0 चंद्रशेखर पति त्रिपाठी, प्रो0 भास्कर भट्टाचार्य, डॉ0 मनोज कुमार मिश्रा ;आई.आई.टी बी0एच0यू0द्धए डॉ0 हिमांशु भूषण बासकी (डि.एम.एस.आर.डी, कानपुर), डॉ0 कृष्णाचारी खरे (आई.आई.टी कानपुर), डॉ0 उमेश यादव (डी0डी0यू0 गोरखपुर) के अतिरिक्त डॉ0 नीरज शुक्ला (एन0आई0टी0 पटना) प्रमुख रूप से सम्मिलित होंगे।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.