स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना से विद्यार्थी सुधारेंगे पुलिस की छवि

Advertisement

गोसाईगंज। पुलिस की छवि सुधारने को लेकर गृह विभाग और पुलिस महानिदेशालय ने एक योजना तैयार की है। आम लोगों में पुलिस के भय की बनी धारणा को दूर करने और पुलिस की छवि सुधारने के लिए स्कूलों को चिन्हित कर इनमें पढ़ने वाले विद्यार्थियों का स्टूडेंट पुलिस कैडेट के रूप में चयन किया है। यह स्टूडेंट पुलिस कैडेट पुलिस और आम लोगों के बीच सेतु का काम करेंगे।
गोसाईगंज नगर थाना प्रभारी निरीक्षण आशुतोष मिश्र ने बताया कि गांवों में सामाजिक बुराइयों के प्रति जागरूकता लाने का प्रयास स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम के तहत समाज में पुलिस की अपराध नियंत्रण एवं रोकथाम, आंतरिक सुरक्षा एवं शांति व्यवस्था में भूमिका, पुलिस की कार्यप्रणाली, सड़क एवं यातायात जागरुकता, पुलिस के सामाजिक उत्तरदायित्व एवं नागरिकों का समाज एवं पुलिस के प्रति उत्तरदायित्व के संबंध में चयनित स्टूडेंट पुलिस कैडेट को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस कार्यक्रम के तहत कन्या भ्रूण हत्या, बाल विवाह, दहेज प्रथा, बाल मजदूरी जैसी सामाजिक बुराइयों के प्रति जागरूकता पैदा करने का कार्य किया जाएगा। स्टूडेंट पुलिस केडेट के लिए गोसाईगंज राजकीय बालिका इंटर कॉलेज की छात्राएं को प्रशिक्षित करने के लिए यह कार्यक्रम पुलिस एवं शिक्षा विभाग द्वारा संयुक्त रूप से अब जिला स्तर पर संचालित किया जाएगा। यह योजना दो वर्ष की अवधि के लिए कक्षा आठ से प्रारंभ होगी। इस योजना के प्रथम वर्ष में कक्षा आठ के विद्यार्थियों को प्रशिक्षित किया जाएगा और आगामी वर्ष में इन्हीं कैडेट्स को कक्षा 9 में प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस योजना के तहत प्रत्येक पुलिस थाना क्षेत्र में एक स्कूल का चयन किया गया है। वहीं, स्कूल में थानाधिकारी व स्टाफ चयनित स्टूडेंट को प्रशिक्षण देने में अहम भूमिका निभाएंगे।