सरोज यादव मौत प्रकरण को लेकर डीआईजी को सौंपा ज्ञापन

    सपा के 11 सदस्यीय प्रतिनिधि मण्डल ने पुलिस उपमहानिरीक्षक को घटना से कराया अवगत

    Advertisement

    फैजाबाद। समाजवादी पार्टी का 11 सदस्यीय एक प्रतिनिधि मण्डल सपा नेता व पूर्व राज्यमंत्री आनन्दसेन यादव की अगुवाई में पुलिस उपमहानिरीक्षक ओंकार सिंह से उनके आवासीय कार्यालय पर मिला। प्रतिनिधि मण्डल की अगुवाई कर रहे सपा नेता व पूर्व राज्यमंत्री आनन्दसेन यादव ने पुलिस उपमहानिरीक्षक को एक ज्ञापन सौंपा और पूरी घटना से उन्हें अवगत कराया। श्री यादव ने पुलिस उपमहानिरीक्षक को बताया कि धमहर पूरे चोपई राम थाना-हैदरगंज निवासी पीड़ित अशोक यादव के घर के बाहर गोबर का कण्डा रखने पर दबंगों ने विवाद किया था और जमीन व रास्ते को लेकर व घर को कब्जा करने की नियत से गत 29 मई गाँव के पाँच दबंगों ने हमला किया था जिससे अशोक यादव की 40 वर्षीय पत्नी सरोज यादव की मौत हो गयी थी और 80 वर्षीय माता करमा देवी व परिवार के अन्य सदस्यों को भी गम्भीर चोटें लगी थीं। पूर्व राज्यमंत्री श्री यादव ने कहा कि यदि बेखौफ होकर घूम रहे अभियुक्तों की यदि शीघ्र गिरफ्तारी नहीं हुई तो ईद के बाद 18 व 19 जून को बड़ी संख्या में समाजवादी पार्टी के लोग सड़कों पर उतरकर जन-आन्दोलन करने के लिये बाध्य होंगे। सपा प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी ने बताया कि पुलिस उपमहानिरीक्षक ने प्रतिनिधि मण्डल की बातों को गम्भीरता से सुना और मौके पर ही थाना-हैदरगंज के थानाध्यक्ष से दूरभाष पर वार्ता की और एफआईआर में नामजद अभियुक्तों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी के लिये निर्देशित किया। प्रवक्ता ने बताया कि प्रतिनिधि मण्डल में पूर्व राज्यमंत्री श्री यादव के साथ जिला पंचायत सदस्य प्रेम नारायण यादव, क्षेत्र पंचायत सदस्य अनिल यादव बब्लू, सपा नेता जय प्रकाश यादव, नन्हकन यादव, हरिंग्टनगंज के ब्लाक प्रमुख लल्लन कोरी, सुरेश इंसान आदि मौजूद थे। प्रवक्ता ने बताया कि हैदरगंज थाना में मुकदमें की धारायें-147/304/308/504/323/506 दर्ज हैं। प्रवक्ता ने बताया कि पीड़ित अशोक यादव के परिवार के सदस्य भी इस मौके पर मौजूद थे। उन्होंने कहा कि पुलिस उपमहानिरीक्षक से पीड़ित अशोक यादव के परिवार की सुरक्षा की भी मांग की गयी।