The news is by your side.

समाजवादी समाज के लिए जीवन भर संघर्षरत रहे रवीन्द्रनाथ : अशोक श्रीवास्तव

समाजवादी पुरोधा रवीन्द्र नाथ तिवारी की मनी जयंती

अयोध्या। समाजवादी पुरोधा पूर्व मंत्री रवीन्द्र नाथ तिवारी ने आजीवन समाजवादी मूल्य आदर्शों सिद्धांतों पर चलकर समाजवादी समाज के निर्माण के लिए संघर्ष किया उनके विचारों व्यक्तित्व और कृतित्व से प्रेरणा लेकर समाजवादी आंदोलन को आगे चलाना उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि है उक्त विचार समाजवादी जनता पार्टी द्वारा स्वर्गीय तिवारी के जयंती के अवसर पर बाल साक्षरता केंद्र में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष अशोक श्रीवास्तव ने व्यक्त किया।
उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि आज देश पूंजीवाद आतंकवाद असमानता अन्याय शोषण अराजकता तथा बेकारी का शिकार हो गया है और दूसरी तरफ सत्ता में बैठे लोगों द्वारा तानाशाही रवैया अख्तियार करने के कारण लोकतंत्र खतरे में पड़ गया है ऐसे समय रवीना तिवारी जैसे समाजवादी चिंतक और विचारक के व्यक्तित्व से प्रेरणा लेकर हमें निर्भयता के साथ समाज में हो रहे हर प्रकार के अत्याचार और अन्याय तथा तानाशाही के खिलाफ संघर्ष करना और लोकतंत्र को बहाल रखने के लिए समाज को एकजुट करने की आवश्यकता है उन्होंने कहा कि स्वर्गीय तिवारी ने कभी भी समाजवादी सिद्धांतों से समझौता नहीं किया और अपराध अन्याय तथा विषमता के खिलाफ विधानसभा और विधान सभा के बाहर संघर्ष चलाया वह अद्वितीय हैं हमें गर्व है कि हमने उनके साथ समाज में विषमता और अन्याय के खिलाफ तथा भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए इंगित करो आंदोलन सहित विभिन्न आंदोलनों में भागीदारी किया सत्ता के बाहर और सत्ता में रहकर भी उन्होंने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा कि कौन उनके साथ है और कौन उनके साथ नहीं उन्होंने कभी भी सिद्धांतों और आदर्शों से समझौता नहीं किया वह ठीक हो संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में हमें सभी लोकतांत्रिक समाजवादी शक्तियों को एकजुट करके जनता को तानाशाही के खिलाफ और सांप्रदायिक ताकतों को परास्त करने के लिए आगे आना होगा इसके लिए हमें अपने राजनैतिक और व्यक्तिगत स्वार्थों से ऊपर उठकर देश और समाज की एकता और सद्भाव को बनाने के लिए जनता को लामबंद करना पड़ेगा गोष्ठी में प्रदेश सचिव मारुति कुमार सिंह ने स्वर्गीय तिवारी का स्मरण करते हुए कहा कि उन्होंने कभी भी संख्या बल को महत्व नहीं दिया और के विकसित से प्रेरणा लेकर हमें निर्भयता के साथ समाज में हो रहे हर प्रकार के अत्याचार और अन्याय तथा तानाशाही के खिलाफ संघर्ष करना और लोकतंत्र को बहाल रखने के लिए समाज को एकजुट करने की आवश्यकता है उन्होंने कहा कि स्वर्गीय तिवारी ने कभी भी समाजवादी सिद्धांतों से समझौता नहीं किया और अपराध अन्याय तथा विषमता के खिलाफ विधानसभा और विधानसभा के बाहर संघर्ष चलाया वह अदिति यह हमें गर्व है कि हमने उनके साथ समाज में विषमता और अन्याय के खिलाफ तथा भ्रष्टाचार को बिताने के लिए इंग्लिश करो आंदोलन सहित विभिन्न आंध्र नोनी भागीदारी किया सत्ता से बाहर सत्ता में रह कर भी उन्होंने सभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा कि कौन उनके साथ है और कौन उनके साथ नहीं उन्होंने कभी भी सिद्धांतों और आदर्शों से समझौता नहीं किया। गोष्ठी में प्रदेश सचिव आत्मा सिंह ने जिला महासचिव ब्रिज मोहन सिंह, जिला सचिव श्याम प्रकाश प्रजापति तथा महर्षि वेद प्रकाश, श्रीमती विभा शुक्ला, श्रीमती दिव्या शर्मा मीना श्रीवास्तव मीना सेन ज्योति सेन अंकिता प्रजापति जहीर हसन जितेंद्र गौड़ आदि ने अपने विचार रखें।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.