फिलेटली धरोहर व संस्कृति से रूबरू होने का अवसर

शिक्षा प्रणाली को मजबूत करने में अहम योगदान : के.के. यादव

अयोध्या। भारतीय डाक विभाग द्वारा मेथोडिस्ट गर्ल्स इन्टर कालेज में 5 से 7 जनवरी तक आयोजित तीन दिवसीय मण्डल स्तरीय डाक टिकट प्रदर्शनी अवधपेक्स-2019 का सोमवार को समापन समारोहपूर्वक किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के साथ में पोस्टमास्टर जनरल लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र राजकुमार महाराज एवं अध्यक्ष के रूप में लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ कृष्ण कुमार यादव ने अवधपेक्स प्रदर्शनी के तीसरे दिन राम नेवाज सिंह स्नातकोत्तर महाविद्यालय, कुमारगंज अयोध्या पर स्पेशल कवर जारी किया। प्रदर्शनी में अपने डाक टिकटों को प्रदर्श प्रतियोगिता में जूनियर सीनियर वर्ग फिलेटलिस्ट को मेडल पुरस्कार से पुरस्कृत किया। समापन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री महाराज ने कहा कि डाक टिकट प्रदर्शनी “अवधपेक्स-2019“ के फैजाबाद मण्डल में आयोजन का मुख्य उद्देश्य यहाँ फिलेटली को बढ़ावा देना है । फिलेटली से हमें देश और विदेश के डाक टिकटों को एक ही छत के नीचे देखने का अवसर मिलता है इससे हमें अपने धरोहर व संस्कृति से रूबरू होने का अवसर मिलता है। श्री महाराज ने युवा पीढ़ी विशेषकर छात्रों को इसमें अवश्य रूचि बढाने की आवश्यकता है।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवायें कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक टिकटों का शिक्षा प्रणाली को मजबूत करने में अहम योगदान है। इनके माध्यम से विद्यालाओं एवं युवाओं का तमाम रोचक जानकारी प्राप्त होती जो कि उनके करियर निर्माण में सहायक श्री यादव ने कहा कि सोशल मीडिया इस दौर में हाथ से लिखे पत्रों का महत्व अभी भी कम नहीं हुआ है। यही कारण है की दुनिया भर में हस्त लिखित पत्रों व डाक टिकटों की लाखों करोडो में नीलामी होती है। डाक टिकट को नन्हा राजदूत कहा जाता है । श्री यादव ने कहा कि हर डाक टिकट के पीछे एक कहानी छिपी है और इससे युवा पीढ़ी को रूबरू कराने की जरूरत है। वक़्त के साथ छोटा सा कागज का टुकड़ा दिखने वाले ये डाक टिकट ऐसे अमूल्य दस्तावेज बन जाते हैं, जिनकी कीमत लाखों -करोड़ों में हो जाती है। साथ ही उन्होंने फिलेटली का महत्व को बताते हुए कहा कि आज भी आपको अपनों द्वारा पुराना पत्र हस्त लिखित मिलता है तो आज भी आप उसी भावना में डूब जाते है द्य छात्रों को उन्होंने फिलेटली डिपोजिट एकाउंट खाता के माध्यम से फिलेटली में रूचि बढाने के लिए प्रोत्साहित किया।
कार्यक्रम में राम नेवाज सिंह स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्रबन्धक मनीष सिंह ने डाक विभाग द्वारा राम नेवाज सिंह स्नातकोत्तर महाविद्यालय पर स्पेशल कवर जारी किये जाने पर आभार व्यक्त करते हुए कहा कि राम नेवाज सिंह कुमारगंज के समाजसेवी थे इन्होने समाज में गरीब तबके की शिक्षा, चिकित्सा, तथा जानवरों की सेवा में महत्त्वपूर्ण योगदान रहा है आज भी इनके वंशज अपने पूर्वजो के परम्परा को गति दे रहे है। जूरी के चेयरमैन आर एन यादव ने बताया कि स्वागत सम्बोधन किया एवं कार्यक्रम का संचालन मुख्य विपणन अधिकारी सत्येन्द्र प्रताप सिंह ने किया। इस अवसर पर लखनऊ जीपीओ के चीफ पोस्टमास्टर आर. एन. यादव, सीनियर पोस्टमास्टर सुरेन्द्र पांडेय, फिलेटलिस्ट दिनेश चंद्र शर्मा, आलोक गुप्ता, अजय वैश्य, हिमांशु सिंह चौहान, सहायक डाक अधीक्षक अरुण कुमार सिंह, एस आर भारती, आर के यादव, मनोज कुमार, अल्का गौड़, रोहित कुमार, शोभनाथ यादव, सिंकू, सोनेलाल सहित तमाम अधिकारी-कर्मचारीगण, फिलेटलीस्ट व विभिन्न स्कूलों से आये विद्यार्थी व अध्यापक मौजूद रहे।

अवधपेक्स प्रदर्शनी के प्रतिभागियों को किया गया पुरस्कृत

अयोध्या। अवधपेक्स प्रदर्शनी के दौरान आयोजित पत्र लेखन,स्टैम्प डिजाइन, प्रश्नोत्तरी, सांस्कृतिक प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाले छात्रों को मुख्य अतिथि पोस्टमास्टर जनरल लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र राजकुमार महाराज एवं अध्यक्ष लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ कृष्ण कुमार यादव ने पुरस्कृत किया। प्रतियोगिता अवध इंटरनेशनल स्कूल, उदया पब्लिक स्कूल, मेथोडिस्ट गर्ल्स इंटर कॉलेज, हरी प्रसाद मेमोरियल स्कूल एवं आर्मी पब्लिक स्कूल, अमर पब्लिक स्कूल, टिनी टाईस तथा राजकीय बालिका इन्टर कालेज के छात्र एवं छात्राओं द्वारा पत्रलेखन,स्टैम्प डिजाइन, प्रश्नोत्तरी, सांस्कृतिक प्रतियोगिता के पुरस्कार वितरित।
जूनियर वर्ग पत्र लेखन प्रतियोगिता में हरी प्रसाद मेमोरियल स्कूल की आरुषि पाण्डेय, सीनियर वर्ग में राजकीय बालिका इंटर कॉलेज की आकांक्षा मालवीय, स्टैम्प डिज़ाइन प्रतियोगिता में आर्मी पब्लिक स्कूल की स्वास्तिका, सीनियर में टिनी टोट्स के उत्कर्ष यादव बने गोल्ड मेडलिस्ट। प्रश्नोत्तरी एवं पिक ए स्टैम्प इन अ जार प्रतियोगिता में आर्मी पब्लिक स्कूल के विभाष पटेल एवं श्रृष्टि यादव बने गोल्ड मेडलिस्ट द्य सांस्कृतिक कार्यक्रम में मेथोडिस्ट गर्ल्स इंटर कॉलेज ने मारी बाजी। इस दौरान मेथोडिस्ट गर्ल्स इंटर कॉलेज की शिक्षिकाओं को भी सहयोग के लिए प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह भेट किया गया।

इसे भी पढ़े  पंचायत चुनाव उम्मीदवारों के लिए ‘आप’ ने जारी किया आवेदन पत्र

साहित्यिक संध्या में हुआ राष्ट्रीय कवि सम्मेलन

अयोध्या। तीन दिवसीय मंडल स्तरीय डाक टिकट प्रदर्शनी के दूसरे दिन साहित्यिक संध्या में राष्ट्रीय कवि सम्मेलन आयोजित किया। डॉ मानसी दिवेदी, ताराचंद तन्हा, जगदीप शुक्ल अंचल, निरुपमा श्रीवास्तव, अनामिका पाण्डेय, जसवंत अरोड़ा, शैलेन्द्र मासूम प्रतिमा सिंह, और अखण्ड प्रताप सिंह दर्जनों कवियों ने अपने काव्य पाठ किये। इसी दौरान काव्य पाठ से उत्साहित होकर सहायक अधीक्षक डाकघर मुख्यालय अरुण कुमार सिंह अपनी डाक विभाग की कविताओं को रोक नहीं पाये साथ में सरस्वती वंदना भी की। कवियत्री डॉ0 मानसी द्विवेदी ने संचालन करते हुए श्रोताओं का मन मोह लिया । तारा चन्द तन्हा ने पत्नी चालीसा एवं वैलेंटाइन डे पर हास्य काव्य कर उपस्थित महिलाओं का खूब मनोरंजन किया। मासूम व जगदीप अरोड़ा ने अपने प्रेम के गीत सुनाये द्य निरुपमा श्रीवास्तव, प्रतिमा सिंह एवं अनामिका ने सृंगार रस की कविताओं से सृंगार का वर्णन किया । अंत में वीर रस के कवि जगदीप शुक्ला अंचल ने आतंकी हमलों व पाकिस्तान के घुसपैठियों के काव्य पर खूब भारत माता के जय कारें लगवाएं। साथ में अंचल ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर सरकार के प्रति कविताओं के माध्यम से आक्रोश व्यक्त किया।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More