The news is by your side.

अब डाकिये “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” का भी करेंगे प्रचार

गाँवों में सभी बेटियों के खाते खुलवा बनायेंगे संपूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम : के.के. यादव

प्रधान डाकघर फैजाबाद में डाकिया के साथ हुई

पोस्टमैन अपनी वर्दी पर “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’’ का बैज लगाकर एवं स्पेशल बैग लोगो युक्त डाक वितरण करेंगे

अयोध्या। अब डाकिया डाक बाँटने के साथ-साथ भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ“ का भी प्रचार-प्रसार करेंगे। लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएं कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि इसके लिए पोस्टमैन अपनी वर्दी पर “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’’ का बैज लगाकर एवं स्पेशल बैग लोगो युक्त डाक वितरण करेंगे, ताकि लोग इसके प्रति जागरूक हो सकें। इसके अलावा डाकिया लोगों को सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में भी जागरूक करेंगे । इसके साथ ही लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि बेटियाँ देश का भविष्य है और राष्ट्र निर्माण में इनका महत्वपूर्ण योगदान है। भारत सरकार के अभियान ’बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ’ के अन्तर्गत सभी लोगों का दायित्व है कि बेटियों के भविष्य को संवारने के लिए एक सार्थक कदम उठाएं। डाक निदेशक श्री यादव ने कहा कि गाँवों में 10 साल तक की सभी बेटियों के खाते खुलवाकर उन्हें “सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम“ में बदला जायेगा। मात्र 250 रुपये से सुकन्या खाते खुलवाये जा सकते हैं। बेटियां ही 21वीं सदी में हमारे देश का भविष्य हैं।
श्री यादव ने लोगों से रूबरू होते हुये कहा कि भारत सरकार द्वारा नारी सशक्तिकरण की दिशा में तमाम महत्वपूर्ण योजनाएँ चलायी जा रही हैं। इसी क्रम में डाकघरों में सुकन्या समृद्धि योजना में धन जमा करने से माँ-बाप अपनी बेटी के भविष्य को संवारने में अहम भूमिका निभायेंगे। इससे बेटियों को आर्थिक व सामाजिक रूप से भविष्य में मजबूत किया जा सकता है। कन्या भ्रूण हत्या रोकने, महिला सशक्तिकरण, उच्च शिक्षा में सुकन्या समृद्धि योजना राष्ट्र निर्माण में सहायक होगी।
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनवरी, 2015 में ’बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान का आरम्भ किया था और इसके तहत सुकन्या समृद्धि योजना का आगाज किया था। इसके तहत किसी भी डाकघर में दस साल तक की बालिकाओं का सुकन्या समृद्धि खाता खुलवा सकते है। डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि मात्र 250 रूपये में सुकन्या खाता खोला जा सकता है और इसमें अधिकतम डेढ़ लाख रूपये जमा किये जा सकते हैं। इस योजना में खाता खोलने से मात्र 15 वर्ष तक धन जमा कराना होगा। बेटी की उम्र 18 वर्ष होने पर जमा राशि का 50 प्रतिशत व सम्पूर्ण राशि 21 वर्ष पूरा होने पर निकाली जा सकती है। वर्तमान में ब्याज दर 8.5घ् प्रतिशत है और जमा धनराशि में आयकर छूट का भी प्रावधान है। श्री यादव ने कहा कि फैजाबाद मण्डल में लगभग 65 हजार से अधिक बेटियों के सुकन्या खाते डाकघरों में खोले जा चुके हैं।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.