विपरीत परिस्थितियों में लड़ने के लिए बल प्रदान करते हैं प्रभु राम : योगी

कहा-अयोध्या पुरी यूपी में होने का मिला है सौभाग्य

Advertisement

अयोध्या। रामलला विग्रह के लघु मन्दिर में पुर्नस्थपना के साथ ही नवसंवतस्वर के प्रथम दिवस श्रीराम मन्दिर निर्माण आरम्भ हो गया है। शीघ्र ही अयोध्या में प्रभु श्रीराम का भव्य मन्दिर का निर्माण शुरू कर दिया जायेगा। यह विचार वैदिक मंत्रोच्चारण के मध्य लघु मन्दिर में रामलला के विग्रह को प्राण प्रतिष्ठित करने के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि हजारों वर्षों बाद पावन पुरी अयोध्या मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम के नये आसन पर विराजमान हुए जिसके हम सब साक्षी बने हैं। उन्होंने कहा कि रामजन्मभूमि मन्दिर निर्माण की आशा लगाये गयी पीढ़ियां चली गयीं संतो और पूर्वजों का सपना था कि अयोध्या में प्रभु राम का भव्य मन्दिर बनें जो आज प्रभु राम के नये आसन पर विराजमान होते ही साकार होने जा रहा है। हमें गौरव है कि रामजन्मभूमि अयोध्या उत्तर प्रदेश में है। हर सनातन धर्मी अयोध्या पुरी में आस्था रखता है। जब-जब विश्व मानवता पर संकट आया, चुनौतियां आयी, तब-तब मर्यादा पुरूषोत्तम राम से हमें प्रेरणा और प्रकाश प्राप्त हुआ। प्रभु राम विपरीत परिस्थितियों में लड़ने के लिए बल प्रदान करते हैं। भारत के लोकतंत्र, न्याय प्रणाली और शासन सत्ता के प्रति नया विश्वास सुदृढ़ हुआ है।

इसे भी पढ़े  जन सहयोग से करें कोरोना महामारी का मुकाबला : राजन पाण्डेय