The news is by your side.

सरकार अयोध्या के विकास की गति को करेगी और तेज : गिरीशपति त्रिपाठी

-अयोध्या के लोग साधु संत व्यापारी आने वाले श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए तैयार

अयोध्या। सर्किट हाउस में बुधवार को आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान सोशल मीडिया पर अयोध्या को लेकर फैलायी जा रही अफवाह पर महापौर महंत गिरीश पति त्रिपाठी ने कहा कि अयोध्या नगर निगम के क्षेत्र के 275 बूथ में भाजपा के प्रत्याशी को लगभग 72 हजार मत व सपा के प्रत्याशी को 52 हजार मत प्राप्त हुए है। जिससे अयोध्या के जनमानस में भाजपा के प्रति जबरदस्त उत्साह व सोशल मीडिया पर फैलायी जा रही अफवाह गलत स्पष्ट होती है। अयोध्या लोग साधु संत व्यापारी आने वाले श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए तैयार है। किसी भी अफवाह पर ध्यान ना दे अयोध्या आए, उनका स्वागत अयोध्या के लोग पूरे श्रद्धा के साथ करेंगे और हमारी सरकार अयोध्या के विकास की गति को और तेज करेगी। मैं सभी का आभार व्यक्त करता हूं।

Advertisements

उन्होंने कहा कि केंद्र की एनडीए एवं उत्तर प्रदेश सरकार अयोध्या को वैश्विक पटल पर स्थापित करने के लिए विकास कार्यों के लिए कृत संकल्पित है। मैं अयोध्या के महापौर के दायित्व के नाते यह समस्त नागरिकों एवं अयोध्यावासियों को आश्वस्त करता हूं कि जन भावनाओं की अपेक्षा अनुसार अयोध्या के विकास कार्य को निरंतर गतिमान रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री अयोध्या के विकास के लिए कृत संकल्पित है, शासन प्रशासन एवं नगर निगम के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्देशित किया गया है कि आम जनमानस के भावनाओं का ध्यान रखते हुए जनसमस्याओं का चरणबद्ध एवं न्यूनतम समय अंतराल में निराकरण करते हुए शीघ्रातिशीघ्र विकास केन्द्रित समस्त योजनाओं को पूर्ण किया जाए।

इसे भी पढ़े  किशोरी के साथ दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज

उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में हमें अपेक्षित परिणाम नहीं मिला। हो सकता है कि हम ग्रामीण क्षेत्रों में अयोध्या की भावना को न पहुंचा पाये हो। हम अपनी कमियों व गल्तियों का आत्मचिंतन सकारात्मक तरीके से करके आगे बढ़ेंगे। अयोध्या में जिस तरह से लगभग 30 हजार करोड़ का एतिहासिक निवेश हुआ है। यह इस बात का उदाहरण है कि अयोध्या को लेकर हमारा नेतृत्व कितना गम्भीर है। एक नगरी में निवेश का इतना बड़ा उदाहरण शायद ही दूसरा हो। अयोध्या में रोजगार के साधन बढ़े है।

यहां के व्यापारियों की आमदनी कई गुना बढ़ गयी है। उन्होंने कहा कि अयोध्या केवल विकास व सड़को के लिए नहीं जानी जाती है। सनातन धर्म में अयोध्या की आध्यात्मिक व सांस्कृतिक भूमिका रही है। अयोध्या हमारे आराध्य की जन्मस्थली है। ऐसे आराध्य जिन्होंने अपनी जीवन शैली व मर्यादा से पूरे विश्व को संदेश दिया। अयोध्या को हम केवल चुनाव परिणाम व राजनैतिक दृष्टि से नहीं देख सकते। अयोध्या की भूमिका केवल उत्तर प्रदेश व देश तक नहीं सीमित है। अयोध्या ने विश्व की संस्कृति को रास्ता दिखाने का कार्य किया है। हम फिर से अयोध्या का संदेश वैश्विक स्तर पर देने के लिए प्रस्तुत है।

उन्होंने कहा कि अयोध्या आने वाले तीर्थयात्रियों के मन में यहां की कोई नकारात्मक छवि नहीं होनी चाहिए। प्राण प्रतिष्ठा के बाद अयोध्या आने वाले श्रद्धालुओं का जिस प्रकार से स्वागत हुआ, इस स्वागत के बारें मुख्यमंत्री स्वयं अपने सम्बोधन में कह चुके है। उन्होंने कहा कि नगर निगम अयोध्या आने वाले श्रद्धालुओ व पयर्टको के लिए उच्च श्रेणी की सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध है। इसके लिए लगातार जनअपेक्षाओं को पूरा करने के लिए कार्य किया गया है।ं श्रद्धालुओं को प्राथमिकता के आधार पर बुनियादी सुविधाएं प्रदान की गई है। इसको लेकर सभी स्टैण्डर्ड व मापदंड को पूरा किया गया है।

Advertisements

Comments are closed.