किसान देंगे भाजपा सरकार के छलावा का जवाब : डॉ. निर्मल खत्री

भाजपा सरकार पर बरसे कांग्रेस के पूर्व सांसद

बीकापुर । कांग्रेस के पूर्व सांसद डॉ. निर्मल खत्री ने भाजपा पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश व केंद्र की सरकार जनहित में काम नहीं कर रही है। किसानों की उपेक्षा की गई है। फसल के दाम उचित नहीं मिल रहे। इसके चलते किसानों में रोष है।
उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने किसान व बेरोजगारों के साथ जो छलावा किया है, उसका जवाब वे जरूर देंगे। लोकसभा चुनाव में सत्ता से बेदखल करके दम लेंगे।खत्री रविवार बीकापुर स्थित अधिवक्ता संघ के डॉ. राम मनोहर लोहिया सभाार में कार्यकर्त्ताओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने आह्वान किया किसान अपने कल्याण और भविष्य के विकास के लिए गरीबों और मुस्लिमों को जोड़कर वोट की ताकत से झूठे वायदे करने वाली भाजपा को सबक सिखाएं। कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष राम दास
वर्मा ने अपने सम्बोधन कहा कि उत्तर प्रदेश का किसान अपने खेतों में बोयी फसल को बचाने के लिए हर तरह से लगा है लेकिन छुटटा जानवर सांड बछवा वनरोज से बोयी फसल चौपट बर्बाद हो रही इसके समाधान का रास्ता सरकार निकाल पाने में असफल दिख रही है।देश का अस्सी प्रतिशत किसान की आबादी होने के बाद भी अपने उपज का उचित मूल्य नही ले पा रहा जबकि केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार पूंजीपतियों की हिमायती बनकर उनके हितों में लगी है। कार्यकर्ताओं की बैठक की अध्यक्षता हाजी जहीर हसन व संचालन दया शंकर तिवारी ने किया। दर्जनों लोगों ने कांग्रेस का झण्डा थामा और कांग्रेस पार्टी में अपनी आस्था व्यक्त किया। कांग्रेस के राजेंद्र सिंह उग्रसेन अशोक सिंह राजकुमार सिंह राम नाथ वर्मा कांग्रेस अल्पसंख्यक जिला अध्यक्ष महमूद अहमद विधानसभा अध्यक्ष मोहम्मद अशरफ नगर अध्यक्ष कांग्रेस दिलीप कुमार गौड़ जिला पंचायत सदस्य अखिलेश यादव पूर्व जिला पंचायत सदस्य श्रीनिवास पांडे इंद्रपाल यादव पूर्व ब्लाक प्रमुख मातादीन निषाद कांग्रेस पार्टी के जिला महासचिव दीपनारायण शुक्ला प्रेमचंद्र राय कपिल देव पाठक भोला यादव राम प्रसाद तिवारी उदयभान वर्मा सहित सैकड़ों कांग्रेसी शामिल रहे।

इसे भी पढ़े  संविदा डाक्टरों के हवाले जिला अस्पताल की इमरजेंसी

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More