The news is by your side.

पराली में लगी आग की चपेट में आकर जिंदा जला किसान

हैदरगंज थाना क्षेत्र के बैंतीकला गांव में हुई घटना,  तहसीलदार बीकापुर ने की पुष्टि, थाना प्रभारी ने कहा जलते कूड़े की चपेट में आकर हुई मौत

अयोध्या। जनपद के बीकापुर सर्किल क्षेत्र के अंतर्गत बैंतीकला गांव में मंगलवार को कूड़ा जलाते समय बगल के खेत में पड़ी पराली में भड़की आग की चपेट में आकर एक बुजुर्ग किसान की जिंदा जल कर मौत हो गई। प्रधान अनिल सिंह ने बताया कि मंगलवार दोपहर करीब एक बजे किसान रामगोविंद मौर्य (60) अपने खेत में एक किनारे कूड़ा करकट जला रहा था।

Advertisements

इसी दौरान कूड़े से निकली चिंगारी ने बगल खेत में पड़ी पराली के ढेर में भी आग लग गई। इसे देख किसान बुझाने गया तो वह आग की चपेट में आ गया। वह जान बचाने के लिए भागा मेड़ से टकरा कर गिर गया और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। प्रधान के अनुसार किसान 90 प्रतिशत से अधिक झुलस गया था। किसान दमे का रोगी भी था।

एक घंटे बाद उधर से गुजर रहे ग्रामीण प्रेमचंद निषाद घटना की जानकारी परिजनों को दी। जब तक परिजन मौके पर पहुंचे तब तक उसकी मौत हो चुकी थी । बीकापुर तहसीलदार धर्मेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि वृद्ध की मौत पराली जलाने से हुई है। पोस्टमार्टम और लेखपाल की रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी। एसओ मोहम्मद अरशद ने पराली से मौत से इंकार किया है। बताया कि कूड़ा जलाने के दौरान चपेट में आने से मौत हुई। किसान की मौत की जानकारी पर क्षेत्राधिकारी डॉ. राजेश तिवारी भी मौके पर पहुंचे।

किसान की मौत से बेखबर कृषि विभाग के अधिकारी

-पराली की चपेट में आकर किसान की मौत से कृषि विभाग के अफसर बेखबर हैं। उप कृषि निदेशक डॉ. संजय त्रिपाठी से पूछा गया तो बोले हमको कैसे जानकारी होगी, हम तो वीडियो कान्फ्रेंसिंग में बैठे हैं। जिला कृषि अधिकारी ओम प्रकाश मिश्र ने कहा कि मैं अवकाश पर हूं कथा में बैठा हूं, जानकारी नहीं है। उप कृषि निदेशक जी से पूछ लीजिए

Advertisements

Comments are closed.