in

ऐसी टेक्नोलॉजी को अपनाना चाहिए जो हमारे अनुरूप हो : प्रो. मनोज दीक्षित

“रोल ऑफ मैट्रिक्स लेबोरटी इन एडवांस कम्युनिकेशन” पर हुई कार्यशाला

अयोध्या। डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के आई0 ई0 टी0 संस्थान में इलेक्ट्रॉनिक कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग विभाग एवं ए0आई0टी0 बैंगलोर के संयुक्त संयोजन में आज दिनांक 15 मार्च 2019 से एक सप्ताह का फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत ”रोल ऑफ मैट्रिक्स लेबोरटी इन एडवांस कम्युनिकेशन“ विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। कार्यशाला के उद्घाटन सत्र में मुख्य अतिथि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित एवं विशिष्ट अतिथि कार्यपरिषद सदस्य ओम प्रकाश सिंह रहे। कार्यशाला की अध्यक्षता संस्थान के निदेशक प्रो0 रमापति मिश्र ने की।
कार्यशाला को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित ने कहा कि टेक्नोलॉजी के साथ विद्यार्थियों को खेलने आना चाहिए जिससे वे अभ्यस्त हो सके। हमें ऐसी टेक्नोलॉजी को अपनाना चाहिए जो हमारे अनुरूप हो। उन्होंने इजराइल की लेजर वॉल टेक्नोलॉजी पर कहा कि उस तकनीक के उपयोग के बारे में हमको खुद समझना होगा। क्योंकि तकनीक जगह एवं परिदृश्य की आवश्यकताओं के अनुसार तैयार की जाती है। यह आवश्यक नही कि जो तकनीक एक जगह सफल हो वह प्रत्येक स्थल पर उतनी ही उपयोगी होगी। प्रो0 दीक्षित ने कहा कि 1980 के पहले हमारे पास विकसित टेक्नोलॉजी नहीं थी हम ब्लैक एंड ह्वाइट टेलीविजन का प्रयोग करते थे। तकनीकी विकास के क्रम में 1982 के बाद भारत में रंगीन टेलीविजन का प्रसारण शुरू हो गया। अमेरिक, रूस एवं जापान की टेक्नोलॉजी को हमें अपने अनुरूप विकसित करना होगा। अब यह समझने की आवश्यकता है कि हम अपने अवश्यकताओं के अनुरूप टेक्नोलॉजी का विकास करें।
विश्वविद्यालय के कार्यपरिषद सदस्य ओम प्रकाश सिंह ने कहा की अवध विश्वविद्यालय का आईटी विभाग प्रतियोगिता के युग में अग्रणी भूमिका निभा रहा हैं, आज जिस कल्पना चावला हाल में बैठकर हम लोग यह कार्यक्रम कर रहे हैं हमारी इच्छा है कि हमारे आईटी विभाग का हर एक छात्र-छात्राएं कल्पना चावला की तरह अपना नाम रोशन करें। संस्थान के निदेशक प्रो0 रमापति मिश्र ने बताया कि इस फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम में जम्मू कश्मीर विश्वविद्यालय, नोएडा विश्वविद्यालय, दिल्ली यूनिवर्सिटी और अवध विश्वविद्यालय के आईटी डिपार्टमेंट के छात्र-छात्राएं प्रतिभाग कर रहे है। यह प्रोग्राम 15 मार्च से 19 मार्च तक चलेगा जिसमें 100 से अधिक प्रतिभागी ऑनलाइन पंजीकरण करा लिया है। कार्यक्रम का शुभारम्भ मॉ सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया गया। अतिथियों को स्वागत पुष्पगुच्छ, स्मृति चिन्ह एवं अंगवस्त्रम भेटकर किया गया। कार्यक्रम के उपरांत कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित ने आईटी विभाग में स्मार्ट क्लासरूम का लोकार्पण किया। कार्यशाला का संचालन ई.परिमल तिवारी ने किया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ0 बृजेश भारद्वाज द्वारा किया गया। इस अवसर पर डॉ0 प्रियंका श्रीवास्तव, डॉ0 वन्दिता पाण्डेय, डॉ0 अनिल यादव, इ0ं चन्दन अरोड़ा, इं0 आर0के0 सिंह, इं0 रामानन्दन त्रिपाठी, इं0 सुनील सहाय, इं0 उमेश सिंह, इं0 महिमा चौरसिया, इं0 अवधेश दीक्षित, इं0 विवेक मिश्र, इं0 विनीत सिंह, इं0 पारितोष त्रिपाठी, इं0 प्रवीण मिश्र, इं0 अमित भाष्कर, डॉ0 संजीत पाण्डेय, इं0 शोभित श्रीवास्तव, इं0 पीयूष राय, जुलियस कुमार, डॉ0 अनुराग त्रिपाठी, इं0 आशीष पाण्डेय, डॉ0 हरगोविन्द सिंह, इं0 दिव्या त्रिपाठी, इं0 अवधेश यादव, इं0 कृति श्रीवास्तव, इं0 अनुराग सिंह, इं0 आशुतोष मिश्र, इं0 मनीषा यादव, इं0 रजनी मौर्या, इं0 नूपुर केशरवानी, इं0 आस्था कुशवाहा सहित समस्त शिक्षक एवं प्रतिभागी उपस्थित रहे।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

मतदाता जागरूकता कार्यशाला में वीवीपैट की दी गयी जानकारी

शुद्ध पेयजल से महरूम हो रहे बीमार व तीमारदार