in

मतदाता जागरूकता कार्यशाला में वीवीपैट की दी गयी जानकारी

अवध विवि के समाजकार्य विभाग में हुआ आयोजन

अयोध्या। डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के समाज कार्य विभाग में मतदाता जागरुकता कार्यशाला का आयोजन किया। कार्यशाला में अपर जिला मजिस्ट्रेट अरुण कुमार मिश्र रहे। मतदाता जागरुकता कार्यशाला में मतदान के समय प्रयोग होने वाले कंट्रोल यूनिट, वालेट यूनिट ,वीवीपैट के बारे में जानकारी दी गई । अपर जिला मजिस्ट्रेट अरुण कुमार मिश्रा ने छात्र-छात्राओं को बताया गया कि वोटिंग करते समय मतदाता के मन में कई भ्रांतियां आती हैं, कि मेरा दिया गया वोट किसे गया है यह पता होना चाहिए। अब इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में वीवीपैट मशीन लगी है इससे हमें यह पता चल जाएगा कि हमारा वोट किसे मिला है। उन्होंने बताया कि वीवीपैड में 7 सेकंड तक 1 पर्ची दिखाई देगी जिसमें प्रत्याशी का नाम ,क्रमांक, चिन्ह बना रहेगा। मतदान के लिए 4 लोगों की टीम बनती है, जिसमें पीठासीन अधिकारी मुख्य होता है। इसके साथ 3 मतदान अधिकारी भी रहते हैं जो मतदान को सुचारू रूप से कराते हैं। इसमें प्रथम मतदान अधिकारी मतदाता के पहचान पत्र की जांच करता है, दूसरा अधिकारी मतदाता का नाम देखना, सिग्नेचर कराना, लिस्ट में लगाना एवं साथ ही मतदाता की उंगली में अमिट स्याही लगाता है। तथा तीसरा मतदान अधिकारी बैलेट यूनिट को ओके करता है। तब मतदान शुरू होती है। उन्होंने बताया कि बूथ के अंदर केवल वही जा सकता है जिसे चुनाव आयोग अनुमति दे इसके अलावा चुनाव कार्य मे लगे कर्मचारी, अधिकारी मतदाता तथा आवश्यकता पड़ने पर पुलिस कर्मचारी व अधिकारी। मतदान शुरू करने से पहले नमूना का मतदान कराया जाता है।
इस कार्यशाला में विश्वविद्यालय के शिक्षक डॉ0 विनय मिश्र, डॉ0 आलोक श्रीवास्तव, डॉ0 अनुराग पान्डेय, डॉ0 प्रज्ञा पान्डेय, डॉ0 त्रिलोकी ,डॉ0 दिनेश कुमार सिंह, कर्मचारी राजीव त्रिपाठी, अमोट मिश्र ,सागर त्रिपाठी एवम विभाग के छात्र छात्राएं भारी संख्या में उपस्थित रहे।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

कारगिल शहीद हवलदार जगदम्बा प्रसाद पाण्डेय को अर्पित की गयी श्रद्धांजलि

ऐसी टेक्नोलॉजी को अपनाना चाहिए जो हमारे अनुरूप हो : प्रो. मनोज दीक्षित