इम्पल्स कंट्रोल डिसऑर्डर के शिकार हो रहे युवा: डॉ. आलोक मनदर्शन

0

“युवा मानसिक स्वास्थ्य” विषय पर हुई कार्यशाला

फैजाबाद। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के समाजकार्य विभाग में विश्व मनोस्वास्थ्य दिवस पर “युवा मानसिक स्वास्थ्य” विषय पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में मुख्य वक्ता युवा विशेष परामर्श दाता डाॅ0 आलोक मनदर्शन रहे।
कार्यशाला को संबोधित करते हुए डाॅ0 आलोक मनदर्शन ने कहा कि आज का युवा इम्पल्स कंट्रोल डिसआॅडर का शिकार हो रहा है, जिसकी वजह से अवसाद, उन्माद व पैरानोईया जैसे गंभीर मनोरोगों की चपेट में आ रहा है। उन्होंने बताया कि तीव्र नकारात्मक मनोवेगों का आत्म नियंत्रित करने की क्षमता कमजोर या न होने की मनोदशा को ही आई0सी0डी0 या इम्पल्स कंट्रोल डिसआॅडर कहा जाता है। यही डिसआॅडर युवाओं को एग्री यंग सिंड्रोम में जकड़कर कई गंभीर मनोरोगों की तरफ ले जाते है, जिसके परिणाम स्वरूप युवाओं में हिंसा, अपराध, आत्महत्या, नशाखोरी, आक्रमकता व अमानवीय लक्षण दिखते है। डाॅ0 मनदर्शन ने युवाओं को गंभीर बीमारी से बचने के लिए सर्वप्रथम आठ घंटे की नींद आवश्यक है तथा मनोरंजक गतिविधियों के साथ ध्यान व आराम को भी प्राथमिकता दें। कार्यक्रम का संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन विभाग के शिक्षक डाॅ0 दिनेश कुमार सिंह ने किया। इस अवसर पर डाॅ0 राजेश प्रजापति, मो0 खालिद, निकिता, अर्चना, अमित मिश्र सहित एम0एस0डब्ल्यू एवं एम0पी0एच के छात्र-छात्राएं उपस्थिति रही।

इसे भी पढ़े  होटल के कमरे को बना रखा था जुआ खाना, 11 गिरफ्तार

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More