रूपया दोगुना कर ठगने वाले गिरोह के तीन शातिर गिरफ्तार, दो फरार

    दो तमंचा, केमिकल, नकदी व कार बरामद

    Advertisement

    फैजाबाद। पुलिस ने घेराबंदी करके आंख अस्पताल तिराहा के पास कार सवार रूपया दोगुना कर ठगी करने वाले गिरोह को धर दबोचा। गिरोह के तीन शातिर ठग जहां पुलिस गिरफ्त में आ गये वहीं मौका पाकर दो अन्य फरार हो गये। यह जानकारी कोतवाली नगर में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक नगर अनिल कुमार सिंह सिसोदिया ने दिया।
    उन्होंने बताया कि मुखबिर खास ने सूचना दिया के नोट दोगुना करने वाला गैंग अयोध्या से फैजाबाद की ओर कार से जा रहा है। पुलिस ने आंख अस्पताल तिराहे पर घेराबंदी किया थोड़ी देर में अयोध्या की तरफ से एक आर्टिका कार नम्बर यूपी 42 एबी 1617 आती दिखाई दी। कार पर पुलिस कलर नम्बर प्लेट लगी हुई थी। पुलिस ने जब कार रोंकने का इशारा किया तो कार सवार ने गाड़ी बैक करने का प्रयास किया इसी समय कार बंद हो गयी। मौका पाकर कार से उतर कर दो व्यक्ति भाग खड़े हुई। पुलिस टीम ने तत्काल कार को घेर लिया और कार में बैठे तीन व्यक्तियों को धर दबोचा। कार में बैठे लोगों के पास से एक 315 बोर का तमंचा व एक जिन्दा करतूस केमिकल की दो सीसी, 100-100 के तीन नोट केमिकल लगे हुए 100 रूपये की नकली गड्डी जिसमें ऊपर और नीचे 100-100 के नोट तथा अन्दर सादे कागज थे। इसके अलावां 1580 रूपया नकद बरामद की गयी। उन्होंने बताया कि पकड़ी गयी कार चोरी की होने की सम्भावना है। कार पर नम्बर प्लेट फर्जी लगा हुआ था पूंछताछ के बाद पकड़े गये लोगों ने बताया कि वे लोग केमिकल लगाकर भोलेभाले व्यक्तियों को कागज से असली नोट बनाकर दोगुना देने के नाम पर ठगी करते थे। वह फैजाबाद ही नहीं बल्कि आसपास के जनपदों में भी सक्रिय थे। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किये गये ठगों में दीपक सिंह पुत्र नन्दलाल सिंह निवासी तुलसी उद्यान कोतवाली अयोध्या, स्थाई पता उमरी जलाल थाना जहांगीरंज जनपद अम्बेडकरनगर, सूर्यमणि सिंह पुत्र अर्जुन सिंह निवासी स्वर्गद्वार अयोध्या व नन्दलाल यादव पुत्र संग्राम यादव निवासी दुराही कुंआ अयोध्या शामिल हैं। फरार ठगों में उदय सिंह पुत्र बृजेश बहादुर सिंह व अनीश सिंह पुत्र बृजेन्द्र पाल सिंह निवासीगण भभुआ थाना कोतवाली कर्नलगंज जनपद गोण्डा हैं। इस गिरोह में दो-तीन अन्य भी शामिल हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने ठग गिरोह को गिरफ्तार करने वाले पुलिस दल को 15 हजार रूपये पुरस्कार देने की घोषणा किया है।