The news is by your side.

बुझे चिराग : दो सगे भाइयों की करंट से मौत

खंडासा थाना क्षेत्र के कीन्हूपुर में शनिवार सुबह हादसा

मिल्कीपुर। बिजली तार लगाने के दौरान करंट की जद में आए दो सगे भाइयों की जान चली गई। हृदय विदारक घटना से पूरा गांव सदमे में है। हादसा शनिवार सुबह हुआ।खंडासा थाना क्षेत्र के पूरे गोसाईं मजरे कीन्हूपुर निवासी उमाशंकर गोस्वामी के दोनों लड़के 20 वर्षीय सूरज और 18 वर्षीय धीरज बिजली की चपेट में आ गए।

Advertisements

बेहोश होने की जानकारी होने पर जुटे गांव वालों ने दोनों सगे भाइयों को आनन-फानन में जिला अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। धीरज और सूरज की मौत से घर का चिराग बुझ गया।मौत की खबर सुनकर परिवार समेत पूरे गांव में सन्नाटा पसर गया। मौके पर पहुंचे चौकी इंचार्ज खंडासा ब्रह्मदत्त पांडे व ग्रामीणों ने बताया कि सूरत में रह रहे पिता के घर आने पर शव के पोस्टमार्टम कराए जाने पर निर्णय लिया जाएगा। पिता को हादसे की जानकारी दे दी गई है। खबर के बाद पिता उमाशंकर गोस्वामी सूरत से घर के लिए चल दिए हैं।उमाशंकर गोस्वामी के दो बेटे सूरज और धीरज तथा एक पुत्री है। बच्चों का भरण पोषण के लिए उमाशंकर सूरत में प्राइवेट नौकरी करते हैं। घर पर दोनों बच्चे और पत्नी व बेटी रह रहे थे।

घटना की बाबत कुछ ग्रामीणों का कहना है कि शनिवार सुबह करीब 7 बजे धीरज और सूरज धान की फसल की सिंचाई के लिए बगल के गांव बोडेपुर में ट्यूबेल पर गए थे जहां विद्युत करंट लगने से दोनों भाई झुलस गए। जबकि कुछ ग्रामीणों का कहना है कि निर्माणाधीन मकान में बिजली का तार जोड़ते समय घटना घटित हुई है। ग्रामीण जब तक पूरे मामले को समझ पाते और इकट्ठा होते तब तक उनमें से एक ने दम तोड़ दिया था। लेकिन फिर भी लोग बेहोश समझकर दोनों को जिला अस्पताल पहुंचे जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। एक साथ दोनों भाइयों की मौत से यह नहीं स्पष्ट हो सका कि वह विद्युत करंट की चपेट में कैसे आए। शव गांव में पहुंचते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया। लोग चीखने चिल्लाने लगे।

इसे भी पढ़े  युवाओं को भाजपा सरकार ने दिया धोखा : अखिलेश यादव

लोग बताते हैं कि दोनों भाइयों में बहुत ही प्रेम था और दोनों भाई बहुत ही मिलनसार और हंसमुख स्वभाव के थे।दोनों भाइयों का शव गांव में रखा हुआ है और पिता के आने की प्रतीक्षा है। जबकि धीरज और सूरज की मां व बहन अर्द्ध विक्षिप्त अवस्था मे होने से कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं हैं। ग्रामीणों ने बताया कि मृतक के पिता के आने पर पोस्टमार्टम कराए जाने पर निर्णय लिया जाएगा।
कंदई कला चौकी के प्रभारी ब्रह्मदत्त पांडे घटनास्थल पर मौजूद रहे। उन्होंने बताया कि पिता के आने के बाद ही शव के पोस्टमार्टम के विषय में फैसला लिया जाएगा।

Advertisements

Comments are closed.