The news is by your side.

ई-रिक्शा चालक के मौत की हो न्यायिक जांच : पवन पाण्डेय

-सपा ने मृतक के परिजनों के लिए मांगी 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता

अयोध्या। कोतवाली नगर क्षेत्र के रहने वाले ई-रिक्शा चालक की संदिग्ध मौत का मामला तूल पकड़ने लगा है। समाजवादी पार्टी ने मृतक के परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिए जाने व मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग की है साथ ही दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की है।

Advertisements

गुरुवार को शाने अवध सभागार में आयोजित प्रेसवार्ता में मृतक की पत्नी गुड़िया व दोनों बच्चों को न्याय दिलाने की मांग को लेकर पूर्व राज्यमंत्री तेज नारायण पांडेय ने कहा जब तक पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिल जाता तब तक समाजवादी पार्टी संघर्ष करेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि मो. कफील की मौत पुलिस अभिरक्षा में हुई है, ऐसे में मामले की न्यायिक जांच कराई जाए साथ ही दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया जाए। उन्होंने कहा कि मृतक की पत्नी की ओर से लिखित तहरीर सपा अधिवक्ता मंडल ने नगर कोतवाली में दी है, लेकिन अभी तक रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है।

उनका कहना है कि शुक्रवार को सपा का प्रतिनिधिमंडल जिलाधिकारी से मिल मजिस्टेकृटी जांच की मांग करेगा। इस मौके पर मृतक की पत्नी ने साहबगंज पुलिस चौकी के पुलिसकर्मियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस उसके पति को उठाकर ले गई थी। कोतवाली नगर में उससे सादे पन्ने पर अंगूठा लगवाया था। इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष श्याम कृष्ण श्रीवास्तव, महासचिव हामिद जाफर मीसम, अखिलेश पांडे एडवोकेट, शावेज जाफरी आदि मौजूद रहे।

Advertisements

Comments are closed.