हाईटेंशन विद्युत चपेट में आकर किसान की मौत

फसल की सिंचाई करने जा रहा था किसान

मिल्कीपुर। बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही से गई किसान की जान चक मार्ग पर लटका हुआ था हाई वोल्टेज विद्युत तार खेत की सिंचाई करने गया किसान बिजली की तार से चिपका मौके पर ही किसान की मौत।
इनायतनगर थाना अंतर्गत बसवार कला गांव निवासी दलित किसान राजकुमार पुत्र अलगू शनिवार की सुबह खेत की सिंचाई करने के लिए पाइप लेकर खेत जा रहा पाइप लटके विद्युत हाईटेंशन तार में छू गया जिससे हाईटेंशन विद्युत ने किसान को अपनी चपेट में ले लिया किसान की चीख सुनकर आसपास खेतों में काम कर रहे किसान दौड़कर किसी तरह से विद्युत तार की चपेट से निकालते कि तब तक मौत हो गई थीद् कई बार सूचना के बावजूद विद्युत विभाग द्वारा तारों के सही न करने पर इस हादसे से गुस्साए ग्रामीणों ने हैरिंगटनगंज पुलिस चैकी के सामने मिल्कीपुर खजुरहट रोड जाम कर बिजली विभाग के खिलाफ नारे बाजी करते हुए बिजली विभाग के कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रहे थे। सूचना मिलते ही उप जिला अधिकारी मिल्कीपुर के डी शर्मा नायब तहसीलदार मिल्कीपुर पुलिस क्षेत्राधिकारी मिल्कीपुर घटनास्थल पर पहुंचकर ग्रामीणों से वार्ता करना चाहा लेकिन ग्रामीण एसडीएम से वार्ता करने को तैयार नहीं हुए हालत गंभीर देखते हुए एसडीएम एवं पुलिस क्षेत्राधिकारी मिल्कीपुर ने घटना की जानकारी जिले के उच्चअधिकारियों को दी पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों के निर्देश पर सीओ मिल्कीपुर रुचि गुप्ता ने सर्किल के इनायतनगर, खंडासा , कुमारगंज थानों की पुलिस को घटनास्थल पर लगा दिया गया है। आक्रोशित ग्रामीणों की मांग पर विद्युत विभाग के अवर अभियंता व लाइनमैन के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत होने के बाद प्रदर्शन कर रहे ग्रामीण शांत हुए। वहीं पुलिस शव का पंचायतनामा भरा कर शव विच्छेदन गृह फैजाबाद भेज दियाद्य इस मौके पर एसडीओ विद्युत ऋषिकेश यादव, थाना अध्यक्ष कुमारगंज श्रीनिवास पांडे, एस आई हरे कृष्ण, एसआई जमानत अब्बास ,प्रभारी निरीक्षक इनायत नगर दुर्गेश मिश्रा, चैकी इंचार्ज हरिग्टनगंज राजेश यादव सहित कई थानों की पुलिस घटनास्थल पर मौजूद रही।

इसे भी पढ़े  छात्रा की हत्याकर शव लटकाने वाला अभियुक्त गिरफ्तार

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More