मजहबी दीवारो को तोड़ मुस्लिम बहन ने रेशम के कच्चे धागों से दिया सच्चे प्रेम सदभाव का सन्देश 

0

मुस्लिम महिला ने बीजेपी विधायक रामचन्द्र यादव को बांधा रक्षा सूत्र, विधायक ने दिया क्षेत्र की सुरक्षा का संकल्प

(जितेंद्र यादव)
रुदौली । भावनाओ में चाह हो तो सम्बन्धो की राह अपने आप ही निकल आती है ।जिसके लिए रक्त के सम्बन्ध कोई मायने नही रखते ।ये रिश्ते की ताकत ही ऐसी होती है जो मजहबी दीवारों को तोड़कर दिल से नाता जोड़ लेती है ।जाति धर्म के बंधन से परे सद्भाव और एकता की मिशाल देखना है तो विश्व विख्यात रुदौली शरीफ चले आइये जहां की गंगा जमुनी तहजीब की लोग देश ही नही विदेशो में भी बड़े अदब से याद करते है ।कुछ ऐसी ही मिशाल एक बार फिर भाई बहन के पवित्र व प्यार भरे पर्व रक्षाबन्धन के मौके पर रुदौली में देखने को मिली जहां एक मुस्लिम बहन ने भाजपा विधायक राम चन्द्र यादव की कलाईयों में रेशम के कच्चे धागे से सच्चे प्यार की दास्तान लिख लिख दी ।जिससे जाति धर्म   के बीज बोने वाले ठेकेदारो के गाल पर तमाचा लगा तो वही अखण्ड भारत की वकालत करने वाले लोगो का सर गर्व से ऊँचा हो गया ।
      बताते चले कि जनपद फैज़ाबाद के पश्चिमी छोर पर स्थित मवई ब्लाक का सड़वा गांव इतिहास के पन्नो में अपनी अलग पहचान रखने के साथ साथ जंग ए आजादी की लड़ाई में भी अपना विशेष योगदानो दर्ज करा चुका है।बताते है कि अंग्रेज इस गाँव में आने से थर्राते थे क्योंकि यहां के ग्रामीणों ने 1857 के जुलाई माह में ईद के दिन अंग्रेज  तहसील दार सालू मार खा की गोलियों से भून कर हत्या कर दी थी ।इसी निडर व निर्भीक गाँव की निवासनी बहन समीना खातून जो एक प्राइवेट स्कूल में टीचिंग का कार्य करती है।उन्होंने रुदौली के भाजपा विधायक राम चन्द्र यादव के आवास पर रविवार को दोपहर पहुंच कर श्री यादव के हाथों में रक्षा सूत्र बाँध कर एक बार फिर से रुदौली की साझी विरासत की इबारत लिख दी।भाई की कलाई पर राखी बाँध प्रतिबध्यता की सौगात  पाने की लालसा हर बहन की होती है वही बहन समीना खातून ने भी किया । विधायक श्री यादव से अपने साथ साथ क्षेत्रवासियो की भी रक्षा व सुरक्षा का संकल्प लिया ।समीना खातून कहती है कि विधायक जी जिस तरह लोगो की सेवा करते है सबके सुख दुख में शरीक होते है शायद ही कोई ऐसा विधायक हो जो रात दिन जनता की सेवा में समय गुज़ारे ।इन सब चीजों से प्रभावित होकर पिछले कई वर्षों से रक्षाबन्धन के पर्व विधायक जी के आवास पर राख़ी  के दिन पहुँच जाती हूँ । विधायक जी भी बड़े मृदु स्वभाव के साथ साथ भाई बहन के रिश्ते को निभाते है हर बार मुझे कोई न कोई  उपहार भी भेंट करते है ।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: