लापता एमआर अतुल खरे की निर्मम हत्या, अधजला शव बरामद

जनपद में लाकअप के दौरान जघन्य वारदात से मचा हडकम्प

Advertisement

अयोध्या। जनपद के कैंट थाना क्षेत्र में मंगलवार की भोर सुनसान इलाके में एमआर अतुल खरे का जला शव मिलने के बाद क्षेत्र में हडकम्प मच गया। मामले की खबर पर पहुंची पुलिस ने मृतक की शिनाख्त सोमवार शाम से लापता बुजुर्ग अतुल खरे के रूप में की है। प्रकरण में मृतक की पुत्री हत्या कर शव को ठिकाने लगाने के आरोप में मुकदमा पंजीकृत कराया है।
कैंट थाना क्षेत्र के दिल्ली दरवाजा मोहल्ले स्थित मिर्जा अली बाजार सीमेंट कोठी के निकट 59 वर्षीय अतुल खरे पुत्र स्वर्गीय अमरनाथ खरे का पुश्तैनी आवास है। वह यहां अकेले रहते थे जबकि उनकी पत्नी और दो पुत्रियां प्रदेश की राजधानी लखनऊ के हंस नगर कॉलोनी स्थित मकान में रह रही हैं। बुजुर्ग अतुल खरे के छोटे भाई डॉ अरविंद खरे साहबगंज क्षेत्र में अपना निजी नर्सिंग होम संचालित करते हैं और परिवार समेत अमानीगंज क्षेत्र में रहते हैं। रोज की तरह सोमवार की शाम बुजुर्ग अतुल खरे के परिवारी जनों ने लखनऊ से उनके मोबाइल पर फोन किया तो संपर्क न हो पाने पर मामले की जानकारी डॉ अरविंद खरे तथा परिवार से जुड़े अन्य लोगों को दी। इसके बाद डॉ अरविंद खरे ने मामले की जानकारी पुलिस को दी और शिकायत पर पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर लापता बुजुर्ग की तलाश शुरू करा दी। देर रात तक पुलिस ने लापता बुजुर्ग की तलाश की लेकिन कोई सुराग ना मिला।
मंगलवार की भोर मोहल्ले वालों ने हसनु कटरा क्षेत्र स्थित एक सुनसान जगह जहां नगर निगम की ओर से मोहल्ले का कूड़ा डाला जाता है, वहां एक अधजला शव देखा और मामले की सूचना इलाकाई पुलिस को दी। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने डॉ अरविंद खरे व अन्य लोगों को मौके पर बुला लिया तो मृतक की शिनाख्त शाम से लापता बुजुर्ग अतुल खरे के रूप में हुई। लाकडाउन के बीच शहर क्षेत्र में हुई जघन्य वारदात को लेकर एसएससी,एसपी सिटी मौके पर पहुंच गए और मौका मुआयना के बाद मृतक के घर और आसपास सघन जांच की। पुलिस को मिले सीसीटीवी फुटेज में घटना की गुत्थी काफी हद तक सुलझ गई है। हालांकि अभी आरोपी पुलिस के हत्थे नहीं लग पाए हैं। मामले की तहकीकात में जुटी पुलिस ने कुछ संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। मृतक का मोबाइल साहब गंज क्षेत्र मैं एक मजदूर के पास से बरामद हुआ है। जिसको वारदात में शामिल आरोपियों ने फरार होने के दौरान कूड़े में फेंक दिया था।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने बताया कि मृतक अतुल खरे सोमवार को दूसरी पहर अपने घर से निकले थे। हालांकि पुलिस को गुमशुदगी और सूचना देर शाम दी गई। पुलिस गुमशुदगी दर्ज कर लापता बुजुर्ग की तलाश कर रही थी। उनका शव एक सुनसान जगह पर अधजले हालत में पाया गया है। कैंट पुलिस ने मृतक की पुत्री चारु खरे की शिकायत पर हत्या और साक्ष्य छिपाने की धारा में मुकदमा पंजीकृत किया है। तफ्तीश के दौरान पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे हैं। कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।