संवाद से बड़ी-बड़ी बाधाओं को किया जा सकता है पार: प्रो. मनोज दीक्षित

अवध विवि कर्मचारियों की खुले मंच पर हुई चर्चा

Advertisement

फैजाबाद। डाॅ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के उन्नयन एवं विकास में सहभागिता हेतु विश्वविद्यालय में कार्यरत समस्त कर्मचारियों को खुले मंच पर चर्चा हेतु संत कबीर सभागार में आमंत्रित किया गया। इसकी अध्यक्षता कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित ने किया। चर्चा का उद्देश्य कर्मचारियों एवं अधिकारियों के मध्य बेहतर वातावरण एवं स्वस्थ्य परिवेश स्थापित करना है। जिससे कि कर्मचारी अपनी पूर्ण सहभागिता विश्वविद्यालय के विकास में कर सकें।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित ने कहा कि संवाद के माध्यम से बड़ी-बड़ी बांधाओं को पार किया जा सकता है। इसी उद्देश्य से आज हम आप सभी के बीच है ताकि हम आपस में हो रही बाधाओं को दूर कर सकें। विश्वविद्यालय में पठन-पाठन का स्वस्थ्य परिवेश तैयार करने के लिए विश्वविद्यालय के सभी कर्मचारियों का सहयोग आवश्यक है। हमारी ध्येय है कि हम अपने विश्वविद्यालय अधीन अध्ययन कर रहे छात्र-छात्राओं और अभिभावकों को बेहतर संवाद के जरिये उनकी शैक्षिक आवश्यकताओं को पूरा कर विश्वविद्यालय को नई शैक्षिक एवं गुणवत्ता परक ऊंचाईयों की तरफ ले जा सकें। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में बेहतर संवाद की स्थिति का परिवेश निर्मित होगा निश्चित रूप से हम गुणवत्तापरक संस्थानों की श्रेणी में गिने जायेंगे। यह सभी कर्मचारियों, अधिकारियों के लिए गर्व का अवसर होगा। छात्र-छात्राएं और उनका उज्वल भविष्य हमें नई पहचान प्रदान करेगा। इसके लिए आवश्यक है कि ग्रास रूट लेवल पर काम किया जाय। चर्चा में कर्मचारियों की समस्याओं से अवगत कराते हुए कर्मचारी संघ के अध्यक्ष डाॅ0 राजेश सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय के कई विभागों में शौचालयों की कर्मी, उनकी साफ-सफाई व मरम्मत कराये जाने पर जोर दिया। कर्मचारी संघ भवन के जीर्णोद्वार कराये जाने की बात कही एवं 2012 में कराई गई बी0एड0 की संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लम्बित भुगतान की मांग को रखा। सेवा निवृत्त होने वाले कर्मचारियों के सी0पी0एफ0 व अन्य भुगतान को समय से कराये जाने की मांग की। कर्मचारी संघ के महामंत्री राम कुमार ने बाहर से आने वाले छात्र-छात्राओं एवं अभिभावकों के बैठने की समुचित व्यवस्था कराये जाने की मांग की। इन प्रमुख मांगों पर कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित ने सम्बन्धित अधिकारियों से लम्बित मांगों को शीघ्र पूरा कराये जाने का निर्देश दिया।
इस अवसर पर कुलसचिव प्रो0 एस0 एन0 शुक्ल, मुख्य नियंता प्रो0 आर0 एन0 राय, वित्त अधिकारी लाल प्रताप सिंह, उप कुलसचिव विनय कुमार सिंह व उमानाथ, मुख्य अभियंता आर0 के0 सिंह, पुस्तकालयाध्यक्ष डाॅ0 आर0 के0 सिंह, कर्मचारियों में कृतिका निषाद, श्याम कुमार, विष्णु यादव, आशीष मिश्रा, राजीव त्रिपाठी सहित बड़ी संख्या में कर्मचारी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन कर्मचारी संघ अध्यक्ष राजेश सिंह ने किया।