The news is by your side.

63 बटालियन सीआरपीएफ के नवनिर्मित कैंपस में जवानों के पारिवारिक आवासों का उदघाटन

– पुलिस महानिरीक्षक सतपाल रावत ने 128 पारिवारिक आवासों के उद्घाटन तत्पश्चात जवानों के परिवारों को सुपुद की आवासों की चाबी


अयोध्या। चांदपुर हरबंस में स्थित 63 बटालियन केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के नवनिर्मित कैंपस में जवानों के पारिवारिक आवासों का उदघाटन पुलिस महानिरीक्षक मध्य क्षेत्र केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल सतपाल रावत के द्वारा तथा पूर्व पुलिस महानिरीक्षक केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल अनिल मोहन, कमांडेंट 63 बटालियन छोटेलाल, कमांडेंट सरकार राजारमन, सहायक अभियंता सिविल ऋषभ यादव ,तथा सहायक अभियंता विद्युत कौशलेंद्र प्रताप सिंह के अतिरिक्त 63 बटालियन के अन्य अधिकारीगण अधीनस्थ अधिकारी गण व जवानों तथा उनके परिवारों के सदस्यों की उपस्थिति में किया गया।

Advertisements

इस मौके पर पुलिस महानिरीक्षक मध्य क्षेत्र सतपाल रावत द्वारा विधिवत पूजा अर्चना कर जवानों के कुल 128 पारिवारिक आवासों का उद्घाटन किया तत्पश्चात पुलिस महानिरीक्षक द्वारा जवानों के परिवारों को उनके आवासों की चाबी सुपुर्द कर बधाई दी। उन्होंने जवानों को अपने अभिभाषण में कहां की 2009 में अयोध्या में तैनाती से पूर्व 63 बटालियन केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल द्वारा शांति रक्षा ड्यूटी हेतु भारतीय शांति रक्षक बल के रूप में श्रीलंका में भी तैनात रही है तथा आंध्र प्रदेश के वारंगल जिले तैनाती के दौरान बटालियन को सर्वोत्तम बटालियन की उपाधि से नवाजा गया एवं इस बटालियन ने आप्सप्रक्रम में भारतीय सेवा के साथ कार्य किया है ।

वर्ष 2005 में लश्कर के पांच आतंकवादियों ने श्री राम जन्मभूमि में हमले का प्रयास किया जिसमें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की मुस्तैदी के कारण हमले को सफल करते हुए बिना किसी नुकसान के पांच आतंकवादी को मार गिराया इस अदम्य साहस के लिए जवानों को विभिन्न पुरस्कारों से नवाजा गया। श्री राम जन्मभूमि में हुए आतंकवादी हमले के उपरांत यहां की सुरक्षा ड्यूटी अति संवेदनशील हो गई है ।वर्तमान में 63 बटालियन केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के अधिकारियों तथा जवानों के लिए यह गौरव का विषय है की 2009 से यह बटालियन श्री राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा ड्यूटी सौपी गई है ।

इसे भी पढ़े  बड़ा दिखने की चाह बन रही टीनेज टोबैको यूज की राह : डा. आलोक मनदर्शन

जहां पर भारत देश ही नहीं पूरे विश्व की निगाहें हैं । 63 बटालियन गत वर्षो में सेक्टर की बेस्ट प्रशासनिक बटालियन रही है तथा श्री राम मंदिर का प्राणप्रतिष्ठा के समय 63 बटालियन द्वारा श्री राम जन्मभूमि की सुरक्षा व्यवस्था में जिस प्रकार से अपनी ड्यूटी का निर्वहन किया वह अत्यंत ही सराहनीय है। महानिरीक्षक द्वारा कहा गया कि कैंपस में कैंटीन अस्पताल की सुविधा पहले से ही उपलब्ध थी एवं पारिवारिक आवास की सुविधा उपलब्ध होने पर बटालियन के जवान श्री राम मंदिर सुरक्षा की अति संवेदनशील ड्यूटी का निर्वहन बिना किसी पारिवारिक समस्या के एकाग्र होकर कर सकेंगे उनके द्वारा यह भी कहा गया कि मुझे पूरी आशा ही नहीं बल्कि विश्वास है कि बल के जवान अपने इस कैंपस में आपसी भाईचारा तथा सौहार्द के साथ मिलजुल कर रहेंगे ।

पुलिस महानिरीक्षक द्वारा छोटेलाल कमांडेंट 63 बटालियन के द्वारा पारिवारिक आवास तैयार करवाने में की गई अतिरिक्त मेहनत तथा लग्न के लिए उनकी सराहना की तथा साथ ही सीपीडब्ल्यूडी के सहायक अभियंताओं तथा कार्मिकों का धन्यवाद दिया ।

Advertisements

Comments are closed.