किसानों को न्याय नहीं मिला तो सपा करेगी आन्दोलन: आनन्दसेन

यश पेपर मिल से निकले वाले पानी का पूर्व राज्यमंत्री ने किया निरीक्षण

फैजाबाद । किसानों को न्याय नहीं मिला तो समाजवादी पार्टी झण्डे-डण्डे के साथ सड़कों पर उतरकर जोरदार आन्दोलन करेगी। यश पेपर मिल के जहरीले व गन्दे विषैले पानी और बदबूदार पानी से किसान और क्षेत्रवासियों का जीना दूभर हो गया है। यह आरोप सपा नेता व पूर्व राज्यमंत्री आनन्दसेन यादव ने राजेपुर मूड़ाडीहा पहुॅंचकर कहीं। पूर्व राज्यमंत्री आनन्दसेन यादव व गोशाईगंज के पूर्व विधायक अभय सिंह समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ पहुॅंचकर किसानों व क्षेत्रवासियों से मुलाकात की। पूर्व राज्यमंत्री श्री यादव ने कहा कि गन्दे पानी से गम्भीर संक्रामक रोग की चपेट में लोग आ गये हैं जिससे गम्भीर बीमारियाॅं उत्पन्न हो रही है। बड़ी संख्या में जानवर भी बीमार चल रहे हैं। यदि प्रशासन नहीं चेता तो समाजवादी पार्टी के लोग सड़कों पर उतर कर बड़ा आन्दोलन करेंगे। इस मौके पर गोशाईगंज के पूर्व विधायक अभय सिंह ने कहा कि एक तरफ योगी सरकार नदियों में दूध डालकर पवित्र कर रही है और दूसरी तरफ मिल मालिकों की साॅंठ-गाॅंठ से लाखों लीटर जहरीला पानी गांवों में छोड़ा जा रहा है। जिससे किसानों की फसलें नष्ट हो रही है और तालाब में गिरने वाले जगहरीले पानी से पशु-पक्षी व मछलियाॅं आदि मर रही हैं। उन्होंने कहा कि रामपुर हलवारा, सरायरास, राजेपुर व मूड़ाडीहा के किसान व क्षेत्रवासी परेशान है और मिल के प्रति भारी आक्रोश है। सपा प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी ने बताया कि प्रशासन के लोग यदि समय रहते नहीं चेते तो समाजवादी पार्टी एक बड़ी रणनीति बनाकर पूरे जिले में आन्दोलन करेगी। प्रवक्ता ने बताया कि मौके पर गन्ना सहकारी समिति के पूर्व चेयरमैन सुरेन्द्र यादव, पूर्व ब्लाक प्रमुख रमाकान्त यादव, अनिल यादव बब्लू, नन्हकन यादव, जय प्रकाश यादव, अनिल यादव, संजय सिंह राजू, सुनील सिंह मुन्ना, फैजान अहमद, सुरेन्द्र यादव, प्रमोद सिंह, राधिका प्रसाद, वीरेन्द्र सिंह, भगवत यादव व विट्टू यादव व बड़ी संख्या में किसान व क्षेत्रवासी मौजूद थे।

इसे भी पढ़े  ’तांडव’ वेब सीरीज को बैन करे सरकार : श्वेता राज

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More