The news is by your side.

अवध विवि के पूर्व आचार्य कल्याण सिंह का निधन

शिक्षकों व कर्मचारियों में शोक, अर्पित की गयी श्रद्धांजलि

अयोध्या। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के भौतिकी एवं इलेक्ट्रानिक्स विभाग के पूर्व आचार्य कल्याण सिंह का गुरूग्राम के मेदांता हॉस्पिटल में आज दिनांक 18 जनवरी, 2019 को देहांत हो गया। इस खबर को सुनते ही विश्वविद्यालय के शिक्षक एवं कर्मचारी शोकाकुल हो गये। प्रो0 सिंह का जन्म 1951 में गोरखपुर में हुआ था। इन्होंने परास्नातक की पढ़ाई गोरखपुर विश्वविद्यालय से की एवं पी0एच0डी0 बनारस हिंदू विश्वविद्यालय वाराणसी से किया। शिक्षक जीवन की शुरूआत प्रवक्ता के रूप में एम0एल0के0 पी0जी0 कालेज, बलरामपुर के भौतिकी विज्ञान विभाग से की। प्रो0 सिंह 1987 में विश्वविद्यालय के भौतिकी एवं इलेक्ट्रानिक्स विभाग में रीडर के पद नियुक्त हुए। प्रो0 सिंह विज्ञान संकायाध्यक्ष, मुख्य नियंता, वार्डेन एवं आई0ई0टी0 के निदेशक भी रहे। इसके साथ ही इन्होंने राज्य स्तरीय पी0एच0डी0 प्रवेश परीक्षा एवं बी0एड0 प्रवेश परीक्षा के समन्वयक के रूप में दायित्वों का सफलतापूर्वक निर्वहन भी किया था। प्रो0 सिंह के निधन पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित, प्रति कुलपति प्रो0 एस0एन0 शुक्ला, मुख्य नियंता प्रो0 आर0एन0राय, प्रो0 आर0 एल0 सिंह, भौतिकी एवं इलेक्ट्रानिक्स विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो0 के0 के0 वर्मा, प्रो0 आर0के0 तिवारी, प्रो0 एस0आर0 विश्वकर्मा, प्रो0 एम0पी0 सिंह, प्रो0 अशोक शुक्ला, प्रो0 चयन कुमार मिश्र, प्रो0 एस0के0गर्ग, प्रो0 हिमांशु शेखर सिंह, प्रो0 राजीव गौड़, प्रो0 एस0एस0 मिश्र, प्रो0 विनोद श्रीवास्तव, डॉ0 अनुपम श्रीवास्तव, डॉ0 गीतिका श्रीवास्तव, डॉ0 शैलेन्द्र कुमार, डॉ0 शैलेन्द्र वर्मा, डॉ0 नरेश चौधरी, डॉ0 अनिल कुमार, डॉ0 सिंधू सिंह, डॉ0 विजयेन्दु चतुर्वेदी, डॉ0 राजेश सिंह कुशवाहा, डॉ0 विनय मिश्र, डॉ0 आर0एन0 पाण्डेय, डॉ0 अनूप कुमार, डॉ0 सुरेन्द्र मिश्र, डॉ0 अश्विनी कुमार, डॉ0 महेन्द्र सिंह, डॉ0 अनिल कुमार विश्वा, डॉ0 दिनेश कुमार सिंह सहित अन्य शिक्षकों एवं कर्मचारियों ने गहरा दुख व्यक्त किया। प्रो0 सिंह के निधन की सूचना मिलते ही प्रातः 11 बजे भौतिकी एवं इलेक्ट्रानिक्स विभाग में आयोजित शोक सभा में शिक्षकों, कर्मचारियों एवं विद्यार्थियों ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.