जलियांवाला बाग नरसंहार पर आधारित होगा फिल्म फेस्टिवल

  • अवध विवि के संत कबीर सभागार में आवाम का सिनेमा 9 से 11 अगस्त को आयोजित करेगा 12वां अयोध्या फिल्म फेस्टिवल

  • विभिन्न स्कूलों व कालेजों के छात्र-छात्राएं प्रस्तुत करेंगे रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम

  • कार्यक्रम प्रभारी शोभा गुप्ता शैक्षिक संस्थानों से कर रही संपर्क

फिल्म फेस्टिवल के लिए स्कूलों में सम्पर्क करती कार्यक्रम प्रभारी शोभा गुप्ता

फैजाबाद। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के संतकबीर सभागार में होने वाले 12वें अयोध्या फिल्म फेस्टिवल में शहर के कई विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के छात्रों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति की जाएगी। अवाम के सिनेमा द्वारा आयोजित यह फेस्टिवल 9,10 एवं 11 अगस्त को होना है, जिसका केंद्रीय विषय जलियांवाला बाग नरसंहार पर आधारित है। इस कार्यक्रम में शहर के लगभग 40 शैक्षिक संस्थानों को संपर्क कर प्रतिभाग के लिए आमंत्रित किया गया है। कोई वंदेमातरम गीत पर नृत्य देशभक्ति की अलख जगायेगा तो कोई जलियांवाला बाग नरसंहार पर आधारित लघु नाटिका को प्रस्तुत कर उस समय की ब्रिटिश हुकूमत द्वारा दी गयी यातनाओं को प्रदर्शित करेगा।

फिल्म फेस्टिवल के लिए स्कूलों में सम्पर्क करती कार्यक्रम प्रभारी शोभा गुप्ता

सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रभारी शोभा गुप्ता ने बताया कि सभी छात्रों में इस फेस्टिवल में विभिन्न स्कूलों के छात्र लोक कला एवं देशभक्ति पर आधारित कार्यक्रम की प्रस्तुति करेंगे। जिन स्कूलों में संपर्क किया गया उनमे फैजाबाद पब्लिक स्कूल, आर्मी पब्लिक स्कूल, मेथोडिस्ट इंटर कॉलेज,सेंट ऐंस स्कूल,गुरुनानक बालिका इंटर कॉलेज, राजकरण विद्यालय, एसएसवी ,झुंझनवाला महाविद्यलय, साकेत महविद्यलय, सेंट मेरी स्कूल, आर्यकन्या इंटर कॉलेज ,कनोसा कान्वेंट,जयपुरिया स्कूल,केन्द्रीय विद्यालय,टाइनी टाट्स आदि शामिल है।उन्होंने बताया कि इन सांस्क्रतिक कार्यक्रमों का उद्देश्य छात्रों को देश के शहीदो के बारे में जानकारी देना एवं आजादी के महत्व को समझाना है। कार्यक्रम में शहीदो के वंशज एवं अन्य कई प्रसिद्ध दिग्गज हस्तियां भी शामिल होंगी।

इसे भी पढ़े  प्रशासन का चला बुलडोजर, ढहाया गया आशियाना व अन्य निर्माण

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More