The news is by your side.

विद्यार्थियों द्वारा सृजित कृतियों की प्रदर्शनी ’साकेत चित्रांश’ का हुआ आयोजन

-अयोध्या की वास्तुकला के कलात्मक आयाम को भी किया अंकित

अयोध्या। का.सु साकेत स्नातकोत्तर महाविद्यालय अयोध्या के चित्रकला विभाग के विद्यार्थियों द्वारा सृजित कृतियों की प्रदर्शनी ’साकेत चित्रांश’ का आयोजन समारोह पूर्वक किया किया गया। प्रदर्शनी का उद् घाटन महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. अभय कुमार सिंह के द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। गीता सिंह द्वारा सरस्वती प्रस्तुत किया गया।

Advertisements

प्रदर्शनी में महाविद्यालय के चित्रकला विभाग के स्नातकोत्तर कक्षा के छात्र-छात्राओं द्वारा विभिन्न विषयों पर एवं विभिन्न तकनीक के द्वारा अपने मनोभावों को अपने विचारों को रंगो-रेखाओं द्वारा कलात्मक अभिव्यक्ति की गई। प्रदर्शनी में कैनवास, कागज एवं विभिन्न पृष्ठभूमि पर सृजित लगभग 50 कलाकृतियों को अवलोकन के लिए लिए प्रस्तुत किया गया। प्राचार्य प्रो. सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि यह प्रदर्शनी युवा कलाकारों के द्वारा अयोध्या के कला परिदृश्य में उनकी सहभागिता, संवेदना और कलात्मक अभिरुचि को व्यक्त कर रही है।

यह प्रयास आने वाले समय में अयोध्या के कलात्मक उन्मेष में सहायक होगी। प्रदर्शित चित्रों में रंग योजना और विभिन्न आकृतियों के साथ ही साथ देवी-देवताओं के चित्रों में परंपरागत एवं स्थानीयता का प्रभाव होने के साथ ही साथ अयोध्या की वास्तुकला के कलात्मक आयाम को भी अंकित किया गया। युवा कलाकारों ने अयोध्या की लोक-संस्कृति को व्यक्त करने वाली लोक-चित्रकला के द्वारा कलात्मक समृद्धि को व्यक्त किया। प्रदर्शनी में कमलवती, प्राची, सपना, अंशिका, प्रिया, गीता, वैष्णवी, पीयूष, अक्षय, दिनेश, सत्यम, शेषमणि, दीपिका, भारती, वर्णिका, विरेंद्र, प्रीति, वैशाली आदि छात्रों ने अपनी कृतियों के माध्यम से सहभागिता की।

चित्र प्रदर्शनी का संयोजन चित्रकला विभाग की अध्यक्ष डॉ. कुमुद सिंह और अम्बरीष श्रीवास्तव ने किया। इस प्रदर्शनी का अवलोकन प्राचार्य प्रो. सिंह के अतिरिक्त डॉ. सद्गुरु पुष्पम, डॉ. पूनम जोशी, प्रो. अशोक मिश्रा, डॉ. ऋचा पाठक, डॉ. निधि मिश्रा, डॉ. अनामिका माथुर ने किया।

Advertisements

Comments are closed.