The news is by your side.

अवध विवि में उत्कृष्ट कलाकृतियाॅ आकर्षण का केन्द्र रही

अयोध्या। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के ललित कला विभाग एवं राज्य ललित कला अकादमी, लखनऊ के संयुक्त तत्वाधान में चल रही तीन दिवसीय कला आचार्य कला प्रदर्शनी-2023 के दूसरे दिन बुधवार को मूर्तिकला के अन्तर्गत निर्मित फाइबर कास्टिंग की कृति का सृजन किया गया। वुड कार्विन विधि द्वारा निर्मित गणेश, अध्यात्म को प्रदर्शित करने वाली रमणीक पेन्टिंग, अवध शैली तथा महिला सशक्तीकरण से सम्बन्धित कलाकृतियॉ प्रदर्शनी के आकर्षक का केन्द्र रही।

Advertisements

प्रदर्शनी में अर्थशास्त्र विभाग की प्रो0 मृदुला मिश्रा ने प्रदर्शनी का अवलोकन करत हुए प्रतिभागी शिक्षकां का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने बताया कि रमणीक कलाकृतियां समाज में सुखद वातावरण को प्रस्फुटित करती है। यदि हमें उत्कृष्ट कलाकृतियों का सृजन करना है तो हमें एकाग्र चिन्तन के साथ निरन्तर प्रयास करना होगा।

प्रदर्शनी की संयोजिका डॉ0 सरिता द्विवेदी ने बताया कि इस प्रदर्शनी में आवासीय परिसर के विभिन्न विभागों तथा अवध क्षेत्र के शैक्षणिक संस्थानों से लगभग 900 लोगो ने अवलोकन करते हुए प्रदर्शित कलाकृतियों की बहुत ही प्रशंसा की। आयोजन सचिव ललित कला विभाग की श्रीमती रीमा सिंह ने बताया कि कला प्रदर्शनी में स्थानीय कलाकारों के साथ-साथ प्रदेश भर से लगभग 90 कलाकारों ने कलाकृतियों से सम्बन्धित लोगां को जानकारी दी। ललित कला विभाग के समन्वयक प्रो0 विनोद कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि इस प्रदर्शनी में 54 कलाशैली की कलाकृतियों का प्रदर्शन किया गया जो कि लोगां को अपनी ओर आकर्षित कर रही हैं।

उन्होंने बताया कि प्रदर्शनी का समापन शुक्रवार को किया जायेगा। इस प्रदर्शनी में चन्द्र प्रकाश वर्मा, जर्नादन प्रजापति, डॉ0 राजकुमार द्विवेदी, डॉ0 सीमा पाल, साक्षी पाल, अंकिता सिंह, राजकुमार, उजमा तनवीर, डॉ0 अनिल कुमार, प्रो0 अंग्रेज राना के साथ बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं मौजूद रहें।

Advertisements

Comments are closed.