The news is by your side.

श्रीराम जन्मभूमि पथ निर्माण की धीमी प्रगति पर बिफरे मण्डलायुक्त

-श्रद्धालु मूवमेंट प्लान’से संबंधित स्थलों का जिलाधिकारी के साथ किया निरीक्षण

अयोध्या। भगवान श्रीराम के जन्मस्थल पर भव्य मंदिर का निर्माण हो रहा है जिसका निर्माण कार्य शीघ्र पूरा होने की सम्भावना है। श्री रामजन्मभूमि मंदिर के दर्शन एवं पूजन हेतु पूरे भारत एवं विश्व से श्रद्धालु एवं दर्शनार्थी प्रतिदिन बड़ी संख्या में आयेंगे। उन्हें कोई परेशानी न होने पाये इसके लिए निर्माणाधीन श्री रामजन्म भूमि पथ पर ‘‘श्रद्धालु मूवमेंट प्लान’’ से संबंधित स्थलो का मण्डलायुक्त गौरव दयाल ने जिलाधिकारी नितीश कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनीराज, नगर आयुक्त विशाल सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक सुरक्षा पंकज, आरएमओ अर्जुन सिंह, आर्किटेक्ट जय कार्तिकर, अवर अभियन्ता लोक निर्माण विभाग आशाराम, एवं संबंधित कार्यदायी संस्था के वरिष्ठ अधिकारी एवं अन्य अधिकारी के साथ गहन निरीक्षण किया।

Advertisements

श्री रामजन्म भूमि मंदिर को जाने वाले मुख्य मार्ग श्री रामजन्म भूमि पथ का निर्माण का धीमी गति से होने पर मण्डलायुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए अधिशाषी अभियन्ता लोक निर्माण के निर्माण खण्ड-4 को कार्यो में तेजी लाने के सख्त निर्देश दिये है। उन्होंने आगे बताया कि इस मार्ग को 0-570 चैनेज नम्बरो में विभाजित किया गया है जिस पर पत्थर लगाये जाने का कार्य किया जाना है। इसी मार्ग के चैनेज नं0 300 से 325 पर श्री राम जन्मभूमि पथ से पीएफसी के लिए जाने वाले प्रस्तावित मार्ग के एण्ट्री प्वाइंट पर 08 एक्सरे बैगेज स्कैनर सुरक्षा के दृष्टकोण से लगाये जाने है जिसके लिए एक सिविल स्ट्रेक्चर भी बनाया जाना है। इस सिविल स्ट्रेक्चर के निर्माण हेतु आर्किटेक्ट जय कार्तिकर से डीपीआर एवं डिजाइन को तत्काल प्रस्तुत करने के लिए कहा गया।

इसे भी पढ़े  लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2024 में मतदान प्रतिशत बढ़ाने का लक्ष्य

मण्डलायुक्त ने आगे बताया कि चैनेज नं0-425 पर श्री राम जन्मभूमि मंदिर जाने वाले दर्शनार्थियो की फ्रिस्किंग के लिए 16 चेकिंग बूथ जिसमें 08 महिला व 08 पुरूष के सुरक्षा दृष्टिकोण से बनाये जाने है जहॉ पर डोरफ्रेम मेटल डिटेक्टर तथा टर्नस्टाइल्सभी स्थापित कराये जायेंगे। उन्होंने आगे बताया कि इस पूरे मार्ग चैड़ाई एक समान नही है कही 15 मीटर कही 12 मीटर तो कही 11 मीटर है जो घूम कर जा रहा है। लोक निर्माण विभाग इस सम्पूर्ण रास्ते की चैड़ाई पर सर्वे कराकर आर्किटेक्ट श्री जय कार्तिकर को तत्काल उपलब्ध कराना सुनिश्चित करे ताकि वे एक्जैक्ट डिजाइन तैयार करा सके व रास्ते पर निर्धारित पैटर्न के अनुसार पत्थरो को लगाने में कोई त्रटि न हो।

मण्डलायुक्त ने बताया कि श्री रामजन्म भूमि पथ के चैनेज नं0-460 पर 5 5 वर्ग मीटर में लाल पत्थर का पैनल बनाया गया है, पैनल में डिजाइन हेतु लगाये गये सफेद पत्थरो की क्वालिटी ठीक नही है जिसे माके पर बदलने के निर्देश दिये। पैनल में पत्थरो की कटिंग करके डिजाइन बनाया जाना है इसके लिए अभी तक कटिंग मशीनें नही मंगाई गयी है मौके पर उपलब्ध अधिकारियो को मण्डलायुक्त ने निर्देश दिया कि 04 कटिंग मशीने तत्काल मंगाई जाये। इसके अतिरिक्त रिसेज मेनहोल पर कर्वस नही लगाये गये है इसे भी शीघ्र मंगाकर लगाया जाये। मिस्त्री एवं लेवर की कम से कम 10 टीम को अलग-अलग स्थलो पर एक साथ काम पर लगाया जाये ताकि हर परिस्थिति में 31 मार्च 2023 तक श्री रामजन्म भूमि पथ का निर्माण कार्य पूर्ण हो सके।

Advertisements

Comments are closed.