The news is by your side.

वेद व पुराण में भी नहीं है बेटा-बेटी में भेदभाव : डॉ. अनिल कुमार

नारी सशक्तिकरण अभियान का हुआ शुभारम्भ

Advertisements

अयोध्या। साकेत महाविद्यालय के सभागार में जिलाधिकारी डा. अनिल कुमार पाठक, भाजपा जिलाध्यक्ष अवधेश पाण्डेय (बादल), संसाद लल्लू सिंह के प्रतिनिधि ओमप्रकाश सिंह, परियोजना निदेशक एके मिश्रा, जिला प्रोबेशन अधिकारी विकास सिंह, साकेत डिग्री कालेज के प्राचार्य अजय मोहन श्रीवास्तव, भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीमती अशोका द्विवेदी महामंत्री श्रीमती शकुन्तला त्रिपाठी ने मॉ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर नारी सशक्तिकरण अभियान का अलख जगाई। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने बेटियो के लिए एक काव्य पाठ्य ‘‘मॉ मैं बेटी तुम्हारी, मै भी उतनी प्यारी जितना भैय्या दुलारा, मॉ मैं बेटी तुम्हारी मॉ तुम अपनी रजा दो मुझे विजय घ्वजा पताका दो…………..‘‘ के साथ जिलाधिकारी ने कहा कि वेद और पुराण में कही भी भेदभाव का भाव नही दिखता है कतिपय लोगो ने अपने स्वार्थ के चलते लिंग भेद का परीक्षण कराकर समाज को विकृत किया है सरकार के प्रयास से लोगो में जागरूकता आया है और वे अब बेटा के जन्म में कोई भेद नही करते है। समाज समरसता व संतुलन से चलता है। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष अवधेश सिंह बादल ने कहा सामाज में आज यह प्रश्न यक्ष की तरह तैर रहा कि नारी सशक्तिकरण कैसे हो यह लगातार प्रयास जारी है नारी जब स्वावलम्बी बनेगी तो उसके अन्दर स्वतः सशक्तिकरण का भाव पैदा हो जायेगा।

Advertisements
इसे भी पढ़े  आधार कार्ड अपडेट करने के नाम पर वसूल रहा था 300 रुपये, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Comments are closed.