The news is by your side.

अवैध खनन से भट्ठा मालिक करा रहे ईंट निर्माण



नियमों को दरकिनार कर संचालित हो रहे ईंट भट्ठे

Advertisements

बीकापुर । बीकापुर कोतवाली क्षेत्र में स्थित ईट भट्टों में नियमों को दरकिनार कर ईट बनाई जा रही है। यहां पर बड़ी संख्या में ईट भट्टा स्थापित है लेकिन अधिकांश ऐसे हैं जो नियमों के मुताबिक ईट का निर्माण नहीं कर रहे हैं वहीं कई ईट भट्टा संचालकों के पास पर्यावरण कलियरेंस भी नहीं है
नियमों को दरकिनार कर ईट बेचकर संचालक चांदी कूट रहे हैं अभी तक इन ईट भट्टा संचालकों पर भी विभाग ने कोई कार्रवाई नहीं की हैं। वैसे तो इन ईट भट्ठों में काफी संख्या में अन्य राज्य के लोगों को रोजगार दिया गया है और रोजी-रोटी के लिए ईंट-भट्ठा कि सभी ईट-भट्ठा मालिक कारोबार की त्रैमासिक रिपोर्ट विभाग को सौंपें। इसमें ईंट-भट्ठा के कारोबार की पूरी जानकारी मांगी गई थी। अधिकांश ईंट भट्ठा मालिक अवैध खनन कर ही ईटें बनाने के लिए प्रयुक्त होने वाली मिट्टी ला रहे हैं, लेकिन खनन विभाग कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। इसके साथ इन भट्ठों से निकलने वाले धुएं से लगातार प्रदूषण फैल रहा है। इस कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
मजदूरों के लिए नहीं शौचालय तक की व्यवस्था की ओर से बनाए गए नियमों को ताक पर रखकर कारोबार में वृद्धि कर रहे हैं। इस कारण लोगों में ईट भट्ठा मालिकों के खिलाफ रोष है। लोगों ने आरोप लगाया कि ईंट-भट्ठों में काम करने वाले मजदूरों की संख्या के अनुसार उन्हें शौचालय उपलब्ध नहीं करवाए गए हैं। इस कारण लोग खुले में शौच जाने के लिए मजबूर हैं। इससे यहां पर गंदगी फैल रही है। इससे लोगों को गंदगी व बदबू के कारण काफी परेशानी होती है। लोगों ने प्रशासन से मांग की है कि इन ईंट-भट्ठा मालिकों के लाइसेंस को रिन्यू करने के लिए पहले उच्च अधिकारी मौके का निरीक्षण करें, शौचालय है या नहीं, इसकी जांच करने के बाद लाइसेंस रिन्यू किए जाएं। मंगलवार को बीकापुर कोतवाली क्षेत्र के लुफताबाद बछौली में स्थित दयाल ईट ब्रिक्स फील्ड भट्टा का निरीक्षण किया गया तो मानक के विपरीत काश्तकारों के खेत से मिट्टी जेसीबी मशीन के द्वारा खुदाई कर आधा दर्जन से अधिक ट्राली पर लादकर धूल उड़ाते हुए भट्टे पर डंप किया जा रहा है डंप की गई मिट्टी के ऊपर कोई ढकने का इंतजाम भी नहीं हुआ था। बताते चलें कि जहां मिट्टी की खुदाई चल रही थी उसके करीब विद्यालय भी बना हुआ है खुदाई के दौरान पानी की भी व्यवस्था नहीं दिखी इस संबंध में उप जिला अधिकारी बीकापुर विजेंद्र द्विवेदी से बात की गई तो उन्होंने साफ तौर से बताया मामला हमारे संज्ञान में आप लोगों के द्वारा लाया गया है हल्का लेखपाल को भेजकर जांच कराई जाएगी यदि मानक के विपरीत खुदाई किया जा रहा है 1 मीटर से ज्यादा गहरी मिट्टी की खुदाई हुई होगी, तो उसके विरुद्ध विधिक कार्रवाई की जाएगी क्षेत्राधिकारी पुलिस बीकापुर से ईट भट्टा मालिक के द्वारा अवैध रूप से मिट्टी की खुदाई के बारे में जानकारी की गई तो उन्होंने भी कहा अब तक हमारे संज्ञान में नहीं था आप लोगों के द्वारा जानकारी दी जा रही है हल्का दरोगा को भेज कर जांच करवाने की बात कही और यदि नियमों के विपरीत खुदाई का कार्य होना पाया गया तो उप जिला अधिकारी बीकापुर तथा खनन विभाग को लिखा पढ़ी कर विधिक कार्रवाई के लिए पत्र भेजा जाएगा इस संवाददाता ने खनन विभाग के अधिकारी से बात करना चाही तो उनका मोबाइल नेटवर्क क्षेत्र से बाहर बता रहा था।

इसे भी पढ़े  उत्तर प्रदेश एक नया कीर्तिमान बनाने की तरफ अग्रसर : डॉ. बिजेन्द्र सिंह

-अशोक वर्मा



Advertisements

Comments are closed.