The news is by your side.

खेल-कूद से नई ऊर्जा का होता है विकास : विजय सिंह

राजकीय पालीटेकनिक का 57वां वार्षिक खेलकूद शुरू

अय़ोध्या। राजकीय पालीटेकनिक का 57वाँ वार्षिक खेलकूद, वाद-विवाद प्रतियोगिता, वार्षिकोत्सव एवं पुरस्कार वितरण समारोह 13 फरवरी से 15 फरवरी तक मुख्य अतिथि इं. जगदीप हीरा द्वारा दीप प्रवज्लन कर खेलकूद को प्रारम्भ किया। प्रधानाचार्य विजय कुमार सिंह ने सभी छात्र/ छात्राओं को सम्बोधित करते हुये कहा कि खेल-कूद से बालक/बालिकाओं में एक नई ऊर्जा/सर्वागिण, मानसिक विकास होता है साथ ही प्रदेश और देश में अपनी प्रतिभा को दर्शाने का अवसर प्रदान करता है। इस लिये सभी लोग खेल को खेल की भावना से खेलें, और यह सोच कर आगे भी खेले कि हम अपनी संस्था का नाम प्रदेश और देश में रोशन करेंगे। उन्होंने कहा कि खेल-कूद प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी प्रतिभागी वधाई के पात्र है, एवं उत्साह वर्धन करते हुये कहा कि निश्चित यही विजेता जोनल एवं स्टेट स्तर के खेलों में संस्था का नाम रोशन करके मेडल प्राप्त करेंगे। प्रधानाचार्य ने कहा कि हार जीत तो खेल का एक हिस्सा है। उन्होने कहा कि खेल को खेल को खेल की भावना से खेला जाना चाहिये। इस प्रकार के कार्यक्रमों से आपसी भाई-चारा सौहार्द पूर्ण वातावरण का माहौल बनता है। प्रधानाचार्य ने संस्था के सभी अधिकारियों/कर्मचारियों को वधाई देते हुये कहा कि संस्था स्टाफ द्वारा दिया गया सहयोग सराहनीय रहा। संस्था का वार्षिकोत्सव एवं ंवाद विवाद प्रतियेगिता में जगत नारायण पान्डेय, विभागाध्यक्ष सिविल, आनन्द कुमार ,विभागाध्यक्ष, एवं अन्य स्टाफ मौजुद रहें। अन्त में प्रधानाचार्य वर्ष 2019 के वार्षिक खेलकूद, वाद-विवाद प्रतियोगिता के समापन की घोषणा की।
विजयी प्रतिभागियों में दौड़ बालक वर्ग 800 मीटर में प्रथम स्थान प्रसाद यादव अन्तिम वर्ष यॉत्रिक अम्बेडकर हाउस द्वितीय स्थान कृष्ण कुमार यादव द्वितीय वर्ष सिविल भाभा हाउस व तृतीय स्थान अर्जुन मिश्रा अन्तिम वर्ष सिविल रमन हाउस रहे। वहीं दौड़ बालिका वर्ग 800 मीटर मे प्रथम स्थान अंशु चौरसिया द्वितीय वर्ष सिविल प्रियदर्शनी हाउस, द्वितीय स्थान पूजा, द्वितीय वर्ष विद्युत रमन हाउस व तृतीय स्थान पर नेहा द्वितीय वर्ष यांत्रिक पटेल हाउस रहीं। क्रीड़ाधिकारी आनन्द कुमार , क्रीड़ा प्रभारी जमाल खॉन ने मुख्य अतिथि एवं समस्त स्टाफ व छात्र/छात्राओं के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.