The news is by your side.

उपनिदेशक पर्यटन को टूरिस्ट विलेज विकसित करने का दायित्व

-श्री अयोध्या जी तीर्थ विकास परिषद् की सहायता हेतु गठित नियोजन व विकास समिति की हुई बैठक

अयोध्या । मण्डलायुक्त गौरव दयाल की अध्यक्षता में पूर्व निर्गत एजेण्डा के अनुसार श्री अयोध्या जी तीर्थ विकास परिषद् की सहायता हेतु गठित नियोजन तथा विकास समिति की द्वितीय बैठक मुख्य कार्यपालक अधिकारी के संयोजकत्व में सम्पन्न हुई। बैठक में नियोजन तथा विकास समिति के सभी सदस्यगण उपस्थित रहें। सर्वप्रथम मुख्य कार्यपालक अधिकारी द्वारा गठित नियोजन तथा विकास समिति के सदस्यों का स्वागत किया गया। श्री अयोध्या जी तीर्थ विकास परिषद अयोध्या द्वारा अंकन 461.38 करोड़ रूपये प्रेषित प्रस्तावित कार्ययोजना के कार्य जिनमें मणिपर्वत के चारों ओर 100 मीटर ए०एस०आई प्रतिवन्धित क्षेत्र को छोड़कर पर्यटन विकास के दृष्टिगत सौन्दर्गीकरण कराये जाने, अयोध्या राम की पैडी पर दर्शकों की भीड़ को दृष्टिगत रखते हुये दर्शक दीर्घा एंव पर्यटकीय सुविधाओ का विकास, सरयू नदी के राजघाट के सन्निकट एम्पलीथियेटर एंव फूड कोर्ट का कार्य, गुप्तार घाट पर वाउन्ड्रीबाल का निर्माण कराये जाने, सरयू आरती घाट पर वाटर स्कीन का कार्य, अयोध्या में रामपथ भक्ति पथ, धर्मपथ, जन्म भूमि पथ पर आने वाले श्रद्वालुओं की सुविधा के दृष्टिगत मिनिस्टि फैन, कैनोपी आदि एवं अन्य कार्यों की प्रस्तावित कार्ययोजना से अवगत कराया गया।

Advertisements

मण्डलायुक्त द्वारा बिगत बैठक में दिये निर्देश ऐसे ग्राम जिनमें दीपोत्सव हेतु दीपक बनाये जा रहे को टूरिस्ट विलेज के रूप में विकसित करने का दायित्व उपनिदेशक पर्यटन को दिया गया था। मण्डलायुक्त द्वारा पर्यटन के दृष्टिगत दीपक बनाने वाले दो ग्रामों को अवस्थापना सुविधा विकसित किये जाने के निर्देश दिए गए। नगर पंचायत अध्यक्ष विजय लक्ष्मी जायसवाल द्वारा अवगत कराया गया कि चौरासी कोसी परिक्रमा का यह चौथा विश्राम स्थल है जहाँ श्रद्वालुओ की अत्यन्त भीड 84 कोसी परिक्रमा में विश्राम करती है। इस स्थल पर स्थित महादेवाघाट तमसा नदी के किनारें समग्र विकास कार्ययोजना को सम्मिलित किये जाने का अनुरोध किया गया। मण्डलायुक्त द्वारा उक्त स्थल का निरीक्षण कर कार्ययोजना तैयार करने हेतु अयोध्या विकास प्राधिकरण को निर्देशित किया गया।

इसे भी पढ़े  साथिया की युक्ति देगी डिजिटल लत से मुक्ति : डा. आलोक मनदर्शन

उ०प्र० राजकीय निर्माण निगम के प्राजेक्ट मैनेजर को रानो पाली एंव महामसर कुण्ड का प्रस्ताव बनाये जाने हेतु निर्देशित किया गया। नगर पंचायत अध्यक्ष के द्वारा प्रस्तुत प्रस्ताव पाराशर आश्रम, पौसरा दिलासीगंज का सौन्दर्गीकरण कराये जाने हेतु परिषद के संयुक्त मुख्य कार्यपालक अधिकारी पी०एन०सिंह एंव महादेवा घाट स्थित रैन वसेरा के स्थल का निरीक्षण धीरज श्रीवास्तव संयुक्त मुख्यकार्यपालक अधिकारी को स्थलीय निरीक्षण कर आख्या उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिये गये।

बैठक में मुख्य कार्यपालक अधिकारी सन्तोष कुमार शर्मा श्री अयोध्या जी तीर्थ विकास परिषद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राज करन नैयर, अश्वनी कुमार पाण्डेय, उपाध्यक्ष अयोध्या विकास प्राधिकरण अयोध्या, प्रणव जैन प्रभागीय वनाधिकारी अयोध्या, शशी भूषण राय, अपरनगर आयुक्त, पी०एन० सिंह संयुक्त मुख्य कार्यपालक अधिकारी अयोध्या, सहयुक्त नियोजक नगर और ग्राम्य नियोजन अयोध्या मण्डल अयोध्या, अधीक्षण अभियन्ता जल निगम ग्रामीण अयोध्या, वित्त एंव लेखाधिकारी विकास प्राधिकरण अयोध्या अयोध्या, क्षेत्रीय अधिकारी उ०प्र० प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड अयोध्या, क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अयोध्या अध्यक्ष नगर पंचायत गोसाईगंज, कुमारगंज, बीकापुर खिरौनीएंव यू०पी०पी०सी०एल०, यूपी०आर०एन०एन० के प्रोजेक्ट मैनेजर आदि उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.