The news is by your side.

बीईओ की हठधर्मिता के आगे विभागीय अधिकारी बेबस, क्षेत्र के अधिकांश विद्यालय हुए एकल

-वार्षिक परीक्षा के दौरान ही विद्यालयों के जिम्मेदार शिक्षकों का हो रहा प्रशिक्षण

मिल्कीपुर। मिल्कीपुर शिक्षा क्षेत्र स्थित परिषदीय विद्यालयों में वार्षिक परीक्षा अब प्रधानाध्यापकों एवं शिक्षकों के प्रशिक्षण में प्रतिभा किए जाने के चलते राम भरोसे ही चल रही है। बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारी भी बीईओ की हठधर्मिता के आगे बेबस नजर आ रहे हैं। क्योंकि उन्हें वार्षिक परीक्षा से ज्यादा महत्वपूर्ण प्रधानाध्यापकों एवं शिक्षकों का एफ एल एन प्रशिक्षण दिखाई पड़ रहा है। फिलहाल समूचे शिक्षा क्षेत्र स्थित परिषदीय प्राथमिक एवं उच्च विद्यालयों में वार्षिक परीक्षा की केवल रस अदायगी बनकर रह गई है।

Advertisements

बता दें कि बीते 23 मार्च से वार्षिक परीक्षा आरंभ हुई थी। वहीं दूसरी ओर परीक्षा आरंभ होने से 1 दिन पूर्व बीते बुधवार से खंड शिक्षा अधिकारी मिल्कीपुर द्वारा प्रधानाध्यापकों एवं सहायक अध्यापकों का दो दिवसीय एफ एल एन प्रशिक्षण आरंभ करा दिया गया है। जिसके चलते क्षेत्र स्थित अधिकांश विद्यालय एकल हो गए हैं। प्रथम चरण के तहत सेवरा मोड़ स्थित कालिका प्रसाद अयोध्या प्रसाद पूर्व माध्यमिक विद्यालय में बीते 22 मार्च से 100 प्रधानाध्यापकों/ सहायक अध्यापकों का एफ एल एन प्रशिक्षण शुरू करा दिया गया जो 23 मार्च को समाप्त हो गया। इधर भर्ती परीक्षा को नजरअंदाज करते हुए द्वितीय चक्र में 135 शिक्षकों का प्रशिक्षण शुक्रवार को शुरू करा दिया गया। जबकि उनके तैनाती विद्यालयों में भी वार्षिक परीक्षा भी हो रही है।

उक्त अव्यवस्था के चलते शिक्षा क्षेत्र के कई विद्यालय मात्र एक शिक्षक के सहारे हो गए ऐसे में उन शिक्षकों के सामने वार्षिक परीक्षा को लेकर असहज स्थिति भी पैदा हो गई। मात्र एक शिक्षक के सहारे कक्षा 1 से कक्षा 5 तक के कक्षाओं की दो पालियों में परीक्षा की सुचिता पर अब सवाल भी उठने लगे हैं। खंड शिक्षा अधिकारी रिचा सिंह की मनमानी एवं हठधर्मिता का आलम यह रहा कि प्रथम बैच का प्रशिक्षण समाप्त होने के बावजूद भी द्वितीय बैच के शिक्षकों का प्रशिक्षण शुरू करा दिया गया और वह परिषदीय विद्यालयों की वार्षिक परीक्षा को शायद भूल गई।

इसे भी पढ़े  1800 मतदान कार्मिको को दिया गया प्रथम प्रशिक्षण

वार्षिक परीक्षा को दरकिनार कर प्रशिक्षण कराए जाने के मामले में जिला समन्वयक प्रशिक्षण सुनील श्रीवास्तव का कहना है कि प्रशिक्षण बहुत पहले हो जाना चाहिए था थोड़ा सा विलंब हुआ है। फिलहाल कल प्रशिक्षण समाप्त हो जाएगा। वार्षिक परीक्षा के दौरान प्रशिक्षण के सवाल पर वह बीएसए से वार्ता करने की बात कही।

Advertisements

Comments are closed.