in

महाशिवरात्रि पर्व को निर्विघ्न रूप से करायें सम्पन्न : अनुज कुमार झा

शिवरात्रि पर्व पर प्रतिबंधित रहेगा नौका भ्रमण

अयोध्या। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने सिंचाई गेस्टहाउस नयाघाट अयोध्या में 4 मार्च को पड़ने वाले महाशिवरात्रि पर्व को सुचारू व निर्विघ्न रूप से सम्पन्न कराने हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे सभी अपने से सम्बन्घित कार्यो को इस प्रकार से क्रियान्वित करें कि जिससे किसी भी व्यक्ति को मेले के दौरान कोई भी क्षति न पहुंचे। उन्होनें कहा कि इसके साथ यह भी सुनिश्चित करें कि कोई भी व्यक्ति अयोध्या के जर्जर भवनों में न ठहरे इसके लिए इन भवनों में चेतावनी बोर्ड या पेन्ट से लिखा दिया जाये।
जिलाधिकारी झा ने कहा कि महाशिवरात्रि पर्व में 4 तारीख को प्रातः 3 बजे से नागेश्वरनाथ मन्दिर के द्वार खुल जायेंगे और श्रद्धालुंओ द्वारा पूजा व स्नान का कार्य प्रारम्भ हो जायेगा। अतः मन्दिर व घाटों पर श्रद्धालुंओ की भीड़ को नियन्त्रित करने हेतु पुलिस द्वारा विशेष रूप से चौकसी बरती जाये।
उन्होनें कहा कि घाटो पर जल पुलिस व नौकाओं की भी तैनाती की जाये व आवश्यकता के अनुसार जल बैरीकेटिंग भी की जाये, राम की पैड़ी पर जो निर्माण का कार्य चल रहा है उसका मलवा भी हटा दिया जाये। महाशिवरात्रि के अवसर पर निकलने वाली शिव बारात को सुचारू रास्ता व शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के लिए सभी एसडीएम व नोडल अधिकारी, थाना प्रभारी व आयोजको के साथ बैठक कर पर समन्वय बैठाकर इस सम्बन्ध में कार्यवाही करें। इसके साथ ही नागेश्वर नाथ मन्दिर, हनुमानगढ़ी व अन्य स्थानों जहां रास्तो में बालू की आवश्यकता है उसका छिड़काव पहले से ही कर दिया जाये। विद्युत विभाग इस दौरान अनवरत विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित करें और जहां विद्युत पोलों में प्लास्टिक लपेटने व तारों को कसने की जरूरत है उसे आज ही सुनिश्चित कर लिया जाये, यदि जनरेटर की आवश्यकता हो तो उसकी भी उपलब्धता प्रकाश व्यवस्था के लिए कर ली जाये।
जिलाधिकारी ने कहा कि यदि कही छुट्टा पशुओं की समस्या है तो उन्हें भी पकड़कर पशुशालाओं में बन्द कर दिया जाये तथा इस दिन कोई भी व्यक्ति अपने पालतू पशुआें को न छोड़े उन्हें बांधकर रखे अन्यथा उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। उन्होनें कहा कि जिन स्नान घाटों में सीढ़ियां छतिग्रस्त है उनकी भी मरम्मत करा ली जाये। महाशिवरात्रि पर्व के दौरान नौका भ्रमण प्रतिबन्धित रहेगा, अतः कोई भी नाविक इसका उल्लघंन न करें सड़को व रास्तो की दरेशी, सफाई, पेयजल, चिकित्सा सुविधा की विशेष व्यवस्था की जाये, सभी शौचालय, मूत्रालय चालू रखे जाये व इनकी लगातार साफ-सफाई भी सुनिश्चित रखी जाये। महाशिवरात्रि पर्व पर 3 एम्बुलेन्स नयाघाट, नागेश्वरनाथ मन्दिर, हनुमानगढ़ी पर चिकित्सक व अन्य स्टाफ के साथ तैनात रहेगी, इसके साथ ही श्रीराम चिकित्सालय में 10 बेड आरक्षित रखे गये है। उन्होनें चेतावनी देते हुए कहा कि मेले के दौरान कोई भी व्यक्ति कांच की बोतल में सरयू क जल न ले इस पर पुलिस कर्मी विशेष ध्यान दें, सभी श्रद्धालुगण पवित्र सरयू का जल प्लास्टिक की बोतल या केन में ले जाये।
जिलाधिकारी श्री झा ने कहा महाशिवरात्रि के साथ चैत्र रामनवमी मेला-2019 की तैयारियों की समीक्षा की व आवश्यक निर्देश दिए। बैठक के उपरान्त जिलाधिकारी ने सरयू आरती स्थल व घाट, राम की पैड़ी व नागेश्वर नाथ मन्दिर का स्थलीय निरीक्षण कर सम्बन्धित अधिकारियों को मेले को बेहतर ढ़ग से सम्पन्न कराने के आवश्यक निर्देश दिए। इस अवसर पर एडीएम सिटी वैभव शर्मा, एसपी सिटी अनिल कुमार सिसौदिया, सीएमओ हरिओम श्रीवास्तव, अधिशाषी अभियन्ता विद्युत एमके गुप्ता, डीएसओ शोभनाथ यादव व अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

जश्न के दौरान पटाखा फटने से छात्र का उड़ा हाथ

लोकसभा चुनाव को लेकर राजन पाण्डेय ने तेज किया जनसम्पर्क