समाजवादी सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष बने चिन्टू सागर

माला पहनाकर समाजवादी पार्टी के लोगों ने किया स्वागत 

Advertisement

फैजाबाद। समाजवादी पार्टी कार्यालय लोहिया भवन में समाजवादी के पांच प्रकोष्ठों जिसमें अनुसूचित जाति/जनजाति, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ, सैनिक प्रकोष्ठ व सांस्कृतिक प्रकोष्ठ की सामूहिक बैठक सपा जिलाध्यक्ष गंगासिंह यादव की अगुवाई में हुई। बैठक का संचालन अनुसूचित जाति/जनजाति प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष ओरौनी प्रसाद पासवान ने किया। बैठक में मुख्य रूप से सपा नेता व पूर्व राज्यमंत्री तेजनारायण पाण्डेय पवन शामिल हुए। बैठक में सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के नवनियुक्त जिलाध्यक्ष व लोकगायक तेजनाथ यादव ‘चिन्टू सागर’ और अनुसूचित जाति/जनजाति प्रकोष्ठ के नवनियुक्त प्र्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रामभवन रावत का माला पहनाकर समाजवादी पार्टी के लोगों ने स्वागत किया। इस मौके पर पूर्व राज्यमंत्री श्री पाण्डेय ने कहा कि सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के नवनियुक्त जिलाध्यक्ष व लोकगायक तेजनाथ यादव ‘चिन्टू सागर’ देश व प्रदेश में अपनी गायिकी का डंका बजा रखा है। उनके गीतों के कई सीडी व कैसेट बने हैं और समाजवादी पार्टी की रीतियों व नीतियों का प्रचार-प्रसार अपनी गायिकी से करते हैं। श्री पाण्डेय ने इस मौके पर कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर चिन्टू सागर को यश भारती सम्मान से सम्मानित किया जायेगा। बैठक की अध्यक्षता करते हुए सपा जिलाध्यक्ष गंगासिंह यादव ने कहा कि प्रदेश के हालात दिनोंदिन खराब होते जा रहे हैं। कानून व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा चुकी है। उन्होंने कहा कि न्यायिक अभिरक्षा में जेल में बन्द कैदी सुरक्षित नहीं हैं। उन्होंने कहा कि शासन व प्रशासन के लोग जमीनों पर कब्जा करा रहे हैं। प्रदेश में मासूम बच्चियाॅं प्रतिदिन दुष्कर्म का शिकार हो रही हैं।
बैठक में छोटेलाल यादव, सरफराज नसरूल्ला, त्रिभुवन प्रजापति, राकेश यादव, शैलेन्द्र यादव, अजय रावत, प्रियंका श्रीवास्तव, पुष्पा रावत, विद्याभूषण पासी, पार्षद रामभवन यादव, लक्ष्मण कनौजिया व विजय बहादुर वर्मा, पारसनाथ यादव, अनुभव रावत, रामसुख चैरसिया, सतीश चैधरी, गौरी शंकर रावत, अजय विश्वकर्मा, रामभवन रावत आदि मौजूद थे। बैठक में मुख्य रूप से सपा के पूर्व प्रदेश सचिव मो0 हलीम पप्पू, मसौधा के पूर्व ब्लाक प्रमुख राम अचल यादव, छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष संजय यादव व अयोध्या के पूर्व नगर अध्यक्ष गजराज तिवारी मौजूद थे।