बरसात के मौसम में पशु रोगों पर प्रभावी अंकुश लगायें पशु चिकित्सक: मनोज मिश्र

मण्डलायुक्त ने की विकास कार्याेे की समीक्षा बैठक

Advertisement

फैजाबाद। मण्डलायुक्त मनोज मिश्र ने मण्डल के पांचो जनपदों में संचालित विभिन्न विकास, निर्माण व स्वास्थ्य कार्यो की कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में विस्तृत समीक्षा करते हुये पशुपालन विभाग को निर्देश दिये गये कि बरसात के मौसम में पशुओं में खुरपका, मुंहपका एवं गलाघोटूं जैसे अन्य गम्भीर रोग होने का खतरा अधिक होता है तथा इन गम्भीर रोगों से बचाव हेतु शीघ्र ही मण्डल के सभी पशुओ को टीकाकरण करने का कार्य पूर्ण करना सुनिश्चित करें जिससे पशुओं को गम्भीर रोगों से बचाया जा सके। उन्होनंे बाढ़ प्रभावित क्षेत्रो में टीकाकरण अभियान को प्राथमिकता देने के निर्देश दिये। मण्डलायुक्त ने कहा कि वर्तमान समय में धान की रोपाई का कार्य चल रहा है तथा बरसात कम होने के कारण किसानो को पानी की बहुत ही अधिक आवश्यकता है, इसे ध्यान में रखते हुये सिर्चाइं विभाग नहरों में टैल तक पानी पहुंचाना सुनिश्चित करें। उन्होनंे कहा कि यदि किसी कार्ड धारक का आधार नम्बर कार्ड से नहीं जुड़ा है और वह कार्ड धारक गरीब व पात्र है तो उसका आधार कार्ड बनवाकर उसे कार्ड से जोड़ा जाये। उन्होनें कहा कि सभी सम्बन्धित अधिकारी अपने से सम्बन्धित विभागीय कार्यो की सुव्यवस्थित कार्ययोजना बनाकर आम जनता से जुड़े कार्यो को गुणवत्ता व समयबद्धता के साथ पूरा करना सुनिश्चित करें, अन्यथा लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति न पाये जाने पर उनके व अधीनस्थ स्टाफ के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।
आयुक्त ने कहा कि वर्तमान सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता स्वास्थ्य, शिक्षा, स्वच्छता, कृषि व आम ग्रामीण व शहरी जनता से जुड़ी लाभार्थीपरक योजनाओं के समयबद्ध क्रियान्वयन करंे, जिससे इन योजनाओें का समय से सीधा लाभ आम जनता को मिले और उनका आर्थिक व सामाजिक उत्थान हो सके, यदि नवजात शिशु, गर्भवती महिला व आम नागरिक स्वास्थ्य रहते है तो उन्हें अनावश्यक अपने इलाज हेतु इधर-उधर भटकना नही पड़ेगा और उन पर किसी प्रकार का आर्थिक बोझ भी नही पड़ेगा।
उन्होने प्रत्येक मण्डल में लोगो को ए0ई0, जे0ई0, डेंगू व अन्य वेक्टर जनित रोगो से बचाव के लिए दवायें दी जा सके, जिससे कम से कम लोग इन बीमारियों से प्रभावित हो। इसी प्रकार बच्चों व गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के प्रति भी जागरूकता लायी जाये व आशाओं का समय से भुगतान किया जाये तथा अस्पतालों में सभी आवश्यक जीवन रक्षक दवायें मरीजों के लिए उपलब्ध रहें। उन्होने कहा कि एक वर्ष आयु तक के बच्चों को कुछी भी होने पर उनके एम्बुलेन्स सेवा फ्री है। जिसके द्वारा माता-पिता बच्चें को कहीं भी ले जा सकते है। बैठक में अवगत कराया गया मण्डल में कुपोषण मुक्त करने के लिये गोद लिये कुल 480 गांव में से 215 गांव को कुपोषण मुक्त किया जा चुका है। जिसमंे जनपद फैजाबाद से 68 गांव में से 51 गावं कुपोषण मुक्त हुये है। उन्होने बताया कि पोषाहार मण्डल के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रो पर उपलब्ध है और उसका वितरण कराया जा रहा है। आयुष्मान भारत योजना पर बहुत तेजी से काम हो रहा है। मण्डल के सभी जनपद के मुख्य चिकित्साधिकारी इस माह के अन्त तक समस्त औपचारिताएं पूर्ण कर लें। 15 अगस्त को प्रधानमंत्री इस योजना का शुभारम्भ करेगें। इस योजना के तहत गरीब एवं असहाय व्यक्तियों तथा उनके परिवार को 5 लाख तक का निःशुल्क चिकित्सा बीमा का लाभ मिलेगा।