भाजपा सरकार में दलित समाज नहीं है सुरक्षित: ओरौनी पासवान

समाजवादी अनुसूचित जाति/जनजाति प्रकोष्ठ की हुई बैठक

Advertisement

फैजाबाद। भाजपा सरकार में दलित समाज सुरक्षित नहीं है। जब से केन्द्र व उ0प्र0 में भाजपा सरकार बनी है दलितों का उत्पीड़न हो रहा है। यह बातें समाजवादी अनुसूचित जाति/जनजाति प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष ओरौनी प्रसाद पासवान ने शहीद भवन में आयोजित बैठक में कहीं। उन्होंने कहा कि देश की राजधानी दिल्ली में कुछ असामाजिक तत्वों ने संविधान की प्रतियाॅं जलायी हैं। इस प्रकार की घटना से पूरे प्रदेश में संविधान निर्माता डाक्टर भीमराव अम्बेडकर के अनुयायियों में भारी आक्रोश है। उन्होंने कहा कि दोषियों पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज होना चाहिए। उन्होंने कहा कि मेरठ में कांवड़ियों द्वारा एक दलित छात्र व गत दिनों इलाहाबाद में एलएलबी के छात्र दिलीप सरोज और सोहावल के सलोनी गांव की कुमारी शिवानी की हत्या कर दी गयी। उन्होंने कहा कि इनायतनगर क्षेत्र के देवरिया गांव में स्थापित डाक्टर भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा कुछ शरारती तत्वों ने क्षतिग्रस्त कर दी जिससे पूरे क्षेत्र में तनाव है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में दलित समाज डरा व सहमा हुआ है। सपा प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी ने बताया कि देश की राजधानी दिल्ली में संविधान की प्रतियाॅं जलाने को लेकर जिलाधिकारी से मिलकर एक प्रतिनिधि मण्डल 13 अगस्त दिन सोमवार को राष्ट्रपति को सम्बोधित एक ज्ञापन सौंपेगा। बैठक में विद्याभूषण पासी, एस0के0 रावत, राजन रावत, डा0 के0पी0 चैधरी, दिलीप रावत, रामनाथ गूजर, अजय रावत, इन्द्रराज पासवान, सुनील रावत, लाल बहादुर पासवान, रमेश कुमार, शिवकुमार गौड़, विक्रम लाल, बब्लू आदि मौजूद थे।

इसे भी पढ़े  सपा प्रदेश सरकार के खिलाफ चलायेगी आन्दोलन