The news is by your side.

अवध कांट्रेक्टर एसोसिएशन ने नगर आयुक्त को सौंपा ज्ञापन

-निलंबित ठेकेदारों को बहाल किये जाने की मांग

अयोध्या। अवध कांट्रेक्टर एसोसिएशन के महामंत्री विजय पाण्डेय व अध्यक्ष उदय भान सिंह के नेतृत्व में लोग नगर आयुक्त विशाल सिंह से रविवार को मुलाकात की। 11 सूत्री मांगों का ज्ञापन सौंपा।

Advertisements

जिसमें प्रमुख मांग निर्माण कार्य में जो जमानत धनराशि 5 वर्ष तक रोकी जाती है और रखरखाव का कोई भुगतान विभाग द्वारा नहीं किया जाता तो इसे एक वर्ष में अवमुक्त कर दिया जाए। अनुबंध गठित होने के उपरांत टेंडर के साथ जमा की गई धनराशि लौटाई जाए। इंटरलॉकिंग व सीसी कार्यों पर 500000 तक टेस्टिंग न लगाई जाए। पंजीकरण नवीनीकरण 3 वर्ष तक कर दिया जाए। 3 से अधिक लिए गए कार्यों को न कराने वाले ठेकेदारों को आगामी निविदा में प्रतिभाग करने से रोका जाए। टेंडर प्रक्रिया में 15 प्रतिशत तक ही निविदा दर स्वीकार किया जाए।

निविदा के समय धरोहर धनराशि दो प्रतिशत लिया जाए। राज्य वित्त आयोग द्वारा कराए गए कार्यों का भुगतान अविलंब कराया जाए। निविदा प्रक्रिया में नगर निगम के पंजीकृत ठेकेदार ही प्रतिभाग कर सकें। निलंबित ठेकेदारों को अविलंब बहाल किया जाए तथा ठेकेदार संघ को बैठने के लिए संघ भवन की व्यवस्था की जाए। नगर आयुक्त नगर निगम अयोध्या विशाल सिंह ने संगठन के पदाधिकारियों को यथासंभव मदद करने की बात कही है। ज्ञापन देने वाले में उपाध्यक्ष बजरंगी गौतम, सचिव राजेंद्र सिंह व कोषाध्यक्ष नरेश गुप्ता भी शामिल थे।

Advertisements
इसे भी पढ़े  भाकपा ही गरीबों, वंचितों व शोषितों की असली हितैषी : सूर्यकांत पांडेय

Comments are closed.