ग्राम प्रधान की हत्या पर सपा नेताओं ने जताया आक्रोश

सरकार व प्रशासन की कार्यशैली पर उठाया सवाल

अयोध्या। पूरे प्रदेश में हत्याओं की बाढ़ आ गयी है। आम और खास आदमी के जान की कीमत कुछ भी नहीं रह गयी है। प्रदेश के हालात बद से बदतर हो गये हैं। कानून व्यवस्था खत्म हो चुकी है। अपराधी खुलेआम अपराध कर रहे हैं और पुलिस की पकड़ से अपराधी बहुत दूर हैं। अपराधी आराम से और खुलेआम तरीके से अपराधों को अंजाम दे रहे हैं और प्रदेश की सरकार मौन धारण किये हुए है। यह आरोप समाजवादी पार्टी के नेताओं ने प्रदेश सरकार पर लगाये। इनायतनगर थाना क्षेत्र के ग्राम हल्ले द्वारिकापुर के 50 वर्षीय प्रधान देवसरन यादव की खुलेआम हत्या पर पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं गुस्से का इजहार करते हुए सरकार और प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठाये। मृतक देवसरन यादव के पोस्टमार्टम के मौके पर शामिल सपा के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व मंत्री अवधेश प्रसाद ने कहा कि प्रधान देवसरन की खुलेआम अपराधी प्रवृत्ति के लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या के दो दिन पूर्व प्रधान देवसरन ने अपनी जान को खतरा बताते हुए प्रशासन को लिखित तौर पर अवगत भी कराया था। लेकिन पुलिस के लोगों ने मामले को हल्के में ले लिया जिससे बीते सोमवार की शाम प्रधान देवसरन की मोटरसाइकिल पर सवार अपराधियों ने गोली मारकर बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी। उन्होंने कहा कि इस तरह की हत्या से यह स्पष्ट होता है कि जिले में और पूरे प्रदेश में कानून का राज खत्म हो गया है। अपराधी और सरकार के लोग साँठ-गाँठ करके अपराधी अपराधों को अंजाम दे रहे हैं। हत्या पर रोष जताते हुए पूर्व राज्यमंत्री तेजनारायण पाण्डेय पवन ने कहा कि प्रधान देवसरन की हत्या में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो समाजवादी पार्टी बड़ा आन्दोलन करेेगी और सरकार व प्रशासन की ईंट से ईंट बजा देगी। सपा जिलाध्यक्ष गंगासिंह यादव, पूर्व मंत्री आनन्दसेन यादव, विधान परिषद लीलावती कुशवाहा, पूर्व विधायक जयशंकर पाण्डेय, पूर्व विधायक अभय सिंह, पूर्व विधायक अब्बास अली जैदी रूश्दी मियाॅं, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि विमल सिंह राजू ने एक स्वर में कहा कि प्रधान की हत्या पुलिस की साॅंठ-गाॅंठ से हुई है। हत्या से यह स्पष्ट हो गया है कि पुलिस की शह पर ही प्रधान की हत्या हुई है। पार्टी प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी ने बताया कि पूरे प्रकरण की जानकारी सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल को दे दी गयी है। प्रवक्ता ने कहा कि 26 जून को सपा के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व मंत्री अवधेश प्रसाद द्वारा आयोजित गाॅंधी मैदान में धरना प्रदर्शन स्थगित कर दिया गया है। प्रवक्ता ने बताया कि पोस्टमार्टम हाउस पर बड़ी संख्या में समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे जिसमें समाजवादी छात्रसभा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिमेष प्रताप सिंह राहुल, प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी, पारसनाथ यादव, इन्द्रपाल यादव, युवजन सभा के जिलाध्यक्ष राघवेन्द्र प्रताप सिंह अनूप, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष संजय यादव, अमर बहादुर यादव, पूर्व ब्लाक प्रमुख रामअचल यादव, कृष्ण कुमार पटेल, सुरेन्द्र यादव, जय प्रकाश यादव, जिला पंचायत सदस्य साहबलाल यादव, आनन्द सिंह मिन्टू, रक्षाराम यादव, शमशेर यादव आदि मौजूद थे। सभी ने घटना की निन्दा करते हुए रोष व्यक्त किया और प्रशासन को चेताया कि यदि घटना का पर्दाफाश नहीं किया गया तो बड़े पैमाने पर पार्टी सड़कों पर उतरकर आन्दोलन करेगी।

इसे भी पढ़े  पंचकोसी परिक्रमा : आस्था की डगर पर बढ़े श्रद्धालुओं के कदम

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More