विज्ञान व तकनीकी का प्रयोग भारतीय समाज की आवश्यकता: प्रो. मनोज दीक्षित

फिफ्थ नेशनल लेवल टेक्नो इक्जीबिशन सांइस में प्रतिभाग करने के लिए शिक्षकों व विद्यार्थियों का दल रवाना

अयोध्या। डाॅ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के आई0 ई0 टी0 संस्थान एवं ए0 आई0 टी0 बैंगलौर के संयुक्त संयोजन में शिक्षकों एवं छात्रों का दल 13 अप्रैल, 2019 से 18 अप्रैल, 2019 तक ड़ॉ0 अम्बेडकर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलाजी बैंगलौर मे आयोजित होने वाली फिफ्थ नेशनल लेवल टेक्नो इक्जीबिशन सांइस में प्रतिभाग करने के लिए जा रहा है। इसके लिए संस्थान के 12 शिक्षकों एवं 48 छात्र-छात्राओं को विश्वविद्यालय के कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित ने बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
इस अवसर पर कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित ने कहा कि विज्ञान और तकनीकी का प्रयोग भारतीय समाज की आवश्यकता के अनुरुप किया जाए तो समाज का तकनीकी रुप से विकास होगा। स्टार्टअप सेल में छात्र-छात्राओं को अपने स्किल का उपयोग करते हुए छोटे-छोटे प्रोजेक्ट बनाने चाहिए। इस अवसर पर छात्र-छात्राओं द्वारा बैंगलौर में प्रस्तुत किए जाने वाले प्रोजेक्ट का अवलोकन कुलपति ने किया। संस्थान द्वारा कुल 6 प्रोजेक्ट बैंगलौर में प्रस्तुत किए जाएगें जिसमें मुख्य स्मार्ट ग्लब्स फार ब्लाइंड, मेडिसिन डिसंपेन्सर, स्मार्ट सिटी, सिक्योरिटी सिस्टम इन मिलिक्ट्री कैम्प, पावर जेनेरेशन बाइ वैनेट आदि प्रोजेक्ट की रूप रेखा शिक्षक इं. दीपक कोरी, इं. अमितेश कुमार पंडित , इं. महेश चैरसिया , इं. आस्था सिंह कुशवाहा, इं. नूपूर यादव, ज्योति यादव, इं. अतीन्द्र श्रीवास्तव की टीम द्वारा तैयार करायी गई है । स्टुडेन्ट एक्टिविटी क्लब की कोऑर्डिनेटर इं. समृद्धि सिंह ने बताया कि अम्बेडकर इंस्टीट्यूट बैंगलौर तथा आई ई टी के संयुक्त संयोजन में देश के प्रमुख इंजीनियरिग कालेज द्वारा प्रतिभाग किया जाना है जिसमे प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली टीम को प्रोत्साहन स्वरुप नगद 1 लाख रुपए का पुरस्कार, द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाली टीम को प्रोत्साहन स्वरुप नगद 50 हजार रुपए का पुरस्कार, तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली टीम को प्रोत्साहन पुरस्कार स्वरुप 25 हजार रुपए का पुरस्कार मिलेगा। आई ई टी के निदेशक आचार्य रमापति मिश्र ने कुलपति के प्रति आभार व्यक्त करते हुए आई ई टी में हो रहे शैक्षणिक बदलाव के लिए कुलपति जी के मार्गदर्शन को प्रेरणा बताया। उन्होने इनोवेशन सेल की कनवेनर इं. शाम्भवी शुक्ला को छात्र-छात्राओ को प्रेरित करने के लिए धन्यवाद दिया। इं. शाम्भवी शुक्ला ने बताया कि ऐसे इनोवेटिव एवं सार्थक आइडियाज के लिए भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा पूरे देश में मुहिम चलायी जा रही है यह उसी का एक अभिन्न हिस्सा है। कार्यक्रम की ट्रेवेल प्लान की विस्तृत जानकारी की रुप रेखा टूरिस्ट कार्डिनेटर सुप्रिया त्रिवेदी ने दी। इस अवसर पर संस्थान के डॉ महिमा चैरसिया, डॉ ब्रजेश भारद्वाज, डॉ अतुल सेन, श्री अभिनव , इं. पारितोष त्रिपाठी, इं. रमेश मिश्र, इं. कृति श्रीवास्तव, इं. श्वेता मिश्रा, इं. समृध्दि सिंह, सुप्रिया त्रिवेदी, इं. समरेन्द्र प्रताप सिंह, इं. अंकित श्रीवास्तव, इं. शोभित श्रीवास्तव, इं. नूपूर केसरवानी, ज्योति यादव, इं. आस्था कुशवाहा, इं. अवधेश दीक्षित, इं. प्रवीन मिश्रा, इं. अवधेश मौर्या, इं. अनुराग सिंह, इं. मनीषा यादव, इं. निशान्त सिंह, इ. पीयूष राय, दिलीप यादव , सुनील प्रभाकर , सौहार्द ओझा, शिक्षा जैन, आशीष पाण्डेय, निधि प्रसाद, रजनीश पाण्डेय, शाम्भवी शुक्ला, प्रदीप कुमार , अमित भाटी, अमित भारद्वाज, प्रेम शंकर , दीपक कोरी, मुरली, अमितेश, दीपक खरे, चन्द्रशेखर वर्मा, चन्दन अरोड़ा, महेश चैरसिया , आशुतोष मिश्रा, एवं अन्य कर्मचारी एवं छात्र छात्राए उपस्थित रहें।

Facebook Comments
इसे भी पढ़े  धर्म व जाति बांटकर सत्ता का ख्वाब देख रही भाजपा: डॉ. निर्मल खत्री