The news is by your side.

उर्मिलेश, प्रो. याकूब यावर व नेहा सिंह राठौर को मिला माटी रतन सम्मान

-सरकार सबको साथ रखने में नाकाम साबित हुई : प्रो. जगमोहन सिंह


अयोध्या। अशफाक उल्ला खां मेमोरियल शहीद शोध संस्थान द्वारा आयोजित शहादत दिवस के समारोह में मुख्य अतिथि शहीदे आज़म भगत सिंह के भांजे प्रोफेसर जगमोहन सिंह ने कहा कि सरकार सबको साथ रखने में नाकाम साबित हुई है। उन्होंने कहा कि शहीदों का सपना सर्वसमाज को एक रखने, उन्हें मुफ्त शिक्षा और स्वास्थ्य की व्यवस्था करना था। शहीदों ने अपनी घोषणाओं में शोषण विहीन समाज बनाने का संकल्प था।उसे पूरा करने में हम कामयाब नही हुए।

Advertisements

समारोह में उर्मिलेश, प्रोफेसर याकूब यावर तथा जनगीतों की लेखिका गायिका नेहा सिंह राठौर को माटी रतन सम्मान से सम्मानित किया गया। माटी रतन सम्मान पाने वालों ने विचार व्यक्त करते हुए शहीद कक्ष में समारोह रोकने को फांसीवादी कार्यवाही कहा। वक्ताओं ने कहा कि संस्थान को काकोरी एक्शन के चारों शहीदों को समारोह में शामिल किया जाना जरूरी है। उन्हें सम्मानित करने वाले संस्थान का वक्ताओं ने आभार व्यक्त किया।

इसके पूर्व शांति सिंह स्मृति सहायता, गीता देवी पाण्डेय स्मृति निबंध प्रतियोगिता तथा डा शैलेश पाण्डेय स्मृति सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के विजेताओं को सहायता, पुरस्कार दिया गया। समारोह का संचालन संस्थान के अध्यक्ष सलाम जाफरी तथा अध्यक्षता प्रबंध निदेशक सूर्य कांत पाण्डेय ने किया। उन्होंने अतिथियों का स्वागत भी किया। सम्मान समारोह की शुरुआत शहीद अशफाक उल्ला खां की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया इस। मुख्य अतिथि का स्वागत उपाध्यक्ष मणीन्द्र शुक्ला मन्नू तथा जसवीर सिंह सेठी ने किया।

माटी रतन सम्मान पाने वाले लोगों का संस्थान के सिक्रेटरी विश्व प्रताप सिंह अंशू, कोषाध्यक्ष अब्दुल रहमान भोलू, लड्डू लाल यादव, विकास सोनकर ने किया। समारोह में पूर्व विधायक जयशंकर पाण्डेय, तेज नारायण पाण्डेय, राजेन्द्र प्रसाद सिंह, ओमप्रकाश सिंह, शीतला पाठक, करुणा कर पाण्डेय, अशोक कुमार तिवारी, सत्यभान सिंह, अंकित पाण्डेय,, बृजेश तिवारी, सुमित तिवारी, विवेक पांडेय, अरुण उपाध्याय, मनोज जायसवाल,दानबहादुर सिंह,डा उर्फी, स्वप्निल श्रीवास्तव, करुणा कर यादव,आर जे यादव अवधेश यादव, उग्रसेन मिश्रा, सहित बड़ी संख्या में लोगों भाग लिया।

Advertisements

Comments are closed.