The news is by your side.

प्रधान पति के दुर्व्यवहार से जिले के सचिव आक्रोशित

डीएम से मिलकर प्रधान पति की गिरफ्तारी की मांग, कार्यवाही ना होने पर ठप्प होंगे ग्रामों के विकास कार्य

अयोध्या। जिले में ग्राम प्रधान प्रधान प्रतिनिधियों के बेजा दबाव और उत्पीड़न से 8 जिले के 11 विकास खंडों के सचिवों ने एकजुट होकर विकास भवन में नारेबाजी करते हुए मवई विकासखंड के सचिव की प्रधान प्रतिनिधि द्वारा पिटाई करने के विरोध में विकास भवन का घेराव कर धरना दिया। जिला अधिकारी नीतीश कुमार से सचिव के प्रतिनिधि मंडल ने मिलकर मवई विकासखंड के प्रधान प्रतिनिधि ग्राम सिपहिया कोठिया के योग राज यादव द्वारा सचिव की पिटाई मामले में दर्ज एफआईआर के अंतर्गत गिरफ्तारी के साथ पंचायत अधिनियम के अंतर्गत प्रधान के अधिकार सीज करने की मांग की है।

Advertisements

जिस पर डीएम ने 3 फरवरी तक कार्रवाई का आश्वासन दिया है। और निर्देश दिया कि प्रधान प्रतिनिधियों को अब विकास खंड कार्यालय में साधारण जनता की तरह ही जाना होगा अब उनकी एंट्री प्रधान प्रतिनिधि के रूप में नहीं हो सकेगी मवई के सचिव विजय कुमार की प्रधान प्रतिनिधि द्वारा अपने सहयोगियों के साथ विकास खंड कार्यालय पर जाकर पिटाई से पूरे जिले के सचिवों में आक्रोश व्याप्त है। प्रतिनिधिमंडल के प्रशासन द्वारा दिया गया आश्वासन पूरा ना होने पर जिले के ग्रामों के सारे विकास कार्यों को आगामी 3 फरवरी के बाद ठप्प करने की बात प्रतिनिधिमंडल ने दौराई है।

मंडल के सदस्य पंकज मिश्रा वैभव पांडे रबी सिंह अनिल दूबे आदि के साथ 11 ब्लॉकों के सचिव ग्राम विकास अधिकारी एवं ग्राम पंचायत अधिकारी सुनील कुमार अर्चना शर्मा सौरभ सिंह अजय यादव विशाल गौतम राहुल पांडे विजय गुप्ता सूरत सिंह रवि सिंह राजेंद्र पांडे सौरभ गुप्ता स्नेह लता अर्जुन कुमार कार्तिकेय पांडे आदि भारी संख्या में उपस्थित रहे दूसरी तरफ ग्राम प्रधान संघ ने भी प्रधान प्रतिनिधि की तरफ से पुलिस को दी गई तहरीर पर सचिव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने की मांग की है इस पर प्रशासन पर दबाव बनाने की योजना में है यदि इस मामले का जल्द ही हल नहीं निकाला गया तो जिले के ग्रामों के विकास कार्य जहां प्रभावित होंगे वही मार्च के सापेक्ष जिले को मिले लक्ष्य की पूर्ति में बाधा खड़ी हो सकती है।

इसे भी पढ़े  यूपी कैटेट परीक्षा : दूसरे दिन 717 अभ्यर्थियों ने दी परीक्षा

 

Advertisements

Comments are closed.