in

ठंड लगने से किसान की मौत

आवारा पशुओं से फंसल को बचाने के लिए रखवाली करने गया था किसान

मिल्कीपुर । खेत की रखवाली करने गए एक अधेड़ किसान की ठंड लगने मौत हो गयी।
जानकारी के अनुसार बिरौली गांव निवासी दुखछोर पुत्र चैतू (53)वर्ष शनिवार की रात आवारा पशुओं से अपनी बोई गई गेहूं की फसल की रखवाली करने के लिए खेत में गया हुआ था रात करीब 11 बजे उसे अचानक ठंड लगने लगी वह खेत से भाग कर घर आया हालत खराब होने पर आनन फानन में परिजन पहले उसे कुमारगंज बाजार में एक निजी चिकित्सक के यहां ले गए लेकिन किसान की हालत गंभीर देख डॉक्टर ने जिला अस्पताल ले जाने की सलाह परिजनों को दी प् डॉक्टर की सलाह मानते हुए परिजनों ने किसान को जिला चिकित्सालय अयोध्या में भर्ती कराया जहां पर इलाज के दौरान मौत हो गई। मौत की जानकारी होते ही परिजनों में कोहराम मचा गया।
ग्रामीणों ने इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी उप जिला अधिकारी मिल्कीपुर को दी जानकारी मिलते ही एसडीएम मिल्कीपुर ने तहसीलदार परमेश कुमार को उक्त गांव भेज कर जानकारी ली जब इसके संबंध में एसडीएम मिल्कीपुर के.डी. शर्मा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि परिजनों ने मृतक किसान का पोस्टमार्टम नहीं कराया है जब तक पोस्टमार्टम नहीं कराया जाता तब तक यह स्पष्ट नहीं हो पाता कि किसान की मौत साधारण हुई या ठंड से फिलहाल यदि परिजन मृतक का पीएम रिपोर्ट कराते हैं तो पीएम रिपोर्ट में ठंड से मौत होने की पुष्टि होती है तो तहसील प्रशासन द्वारा मृतक के परिजनों को हर संभव मदद दी जाएगी। समूचे घटना की जानकारी ग्रामीणों ने क्षेत्रीय विधायक गोरखनाथ बाबा के प्रतिनिधि महेश ओझा को दी।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

मरीजों व तीमारदारों में वितरित किया फल

भाजपा सरकार ने देश का किया सत्यानाश : नरेश उत्तम