The news is by your side.

सरयू में विसर्जित की गई कल्याण सिंह की अस्थियां

-साधु संतों ने भी कल्याण सिंह अमर रहे के लगाए नारे

अयोध्या। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व राम मंदिर आंदोलन के नायक स्व. कल्याण सिंह के अस्थि कलश बृहस्पतिवार को पवित्र सरयू में विसर्जित की गई। अयोध्या नया घाट में विर्सजन के मौके पर उपस्थित साधू संतों, भाजपा नेताओं व जनसमुदाय ने कल्याण सिंह अमर रहें व जय श्री राम के नारों के साथ उन्हे भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

Advertisements

स्व कल्याण सिंह के अस्थि कलश को उनके पुत्र सांसद राजवीर सिंह, नाती राज्यमंत्री संदीप सिंह व परिवारीजन लेकर अयोध्या पहुंचे थे। उनके साथ केन्द्रीय मंत्री बीएल वर्मा भी थे। श्रद्धाजलि अर्पित करने के लिए मंच पर उनका अस्थि कलश रखा गया। जिसे नाव के माध्यम से सरयू में विसर्जित किया गया। अस्थि विसर्जन के दौरान सुरक्षा के दृष्टिकोण से भारी संख्या जल पुलिस की मौजूदगी रही।
अस्थि कलश विर्सजन से पूर्व श्रद्धांजलि सभा को सम्बोधित करते हुए केन्द्रीय मंत्री बीएल वर्मा ने कहा जब भी रामजन्म भूमि मंदिर आंदोलन की चर्चा होगी। तो मंदिर के लिए अपनी कुर्सी न्यौछावर करने वाले मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के नाम के बिना यह चर्चा कभी पूर्ण नही हो पाएगी।

सांसद राजवीर सिंह ने कहा कि बाबू जी का पूरा जीवन अयोध्या और राम के प्रति सर्मिपित था। उनका दो सपना था कि राम मंदिर का निर्माण होते देखना व अंतिम समय में भाजपा के झंडे में लिपट कर जाना। प्रभु राम की कृपा से उनके दोनों स्वप्न पूर्ण हुए। अयोध्या में भव्य दिव्य राम मंदिर का निर्माण प्रारम्भ हो चुका है। महानगर जिलाध्यक्ष अभिषेक मिश्रा ने कहा कि एक कुशल प्रशासक के रुप में कल्याण सिंह बतौर मुख्यमंत्री आम जनता के बीच आज भी याद किये जाते है। शिक्षा, चिकित्सा के क्षेत्र में उनकी सरकार ने कई सराहनीय कार्य किये। अयोध्या से उनका काफी लगाव था।

इसे भी पढ़े  सामान्य प्रेक्षक ने मतदान की तैयारियों का लिया जायजा

अस्थि कलश के साथ बुलन्दशहर के सांसद भोला सिंह, आगरा विधायक जितेन्द्र वर्मा, अन्य विधायको में अनीता राजपूत, देवेन्द्र पाल सिंह, वीरेन्द्र सिंह, संजीव राठोर, मुकेश राजपूत, आये थे। श्रद्धाजंलि सभा में महापौर ऋषिकेश उपाध्याय, विधायकगण वेद प्रकाश गुप्ता, रामचन्दर यादव, गोरखनाथ बाबा, गोण्डा सदर विधायक प्रतीक भूषण शरण सिंह, जिलाध्यक्ष संजीव सिंह, अवधेश पाण्डेय बादल, महंत राजकुमार दास, गिरीश दास, चन्द्राशु जी महराज, गिरीश पति त्रिपाठी, महंत परमहंस दास, महंत राजू दास, महंत छबीले शरण दास, कमलाशंकर पाण्डेय, सभापति धर्मेन्द्र प्रताप सिंह टिल्लू, क्षेत्रीय मंत्री कमलेश श्रीवास्तव शक्ति सिंह, डा राकेश वशिष्ठ, विशम्भर सिंह, सुनील तिवारी शास्त्री, नीरज श्रीवास्तव रिंकू, विशाल मिश्रा, अमल गुप्ता, बालकृष्ण वैश्य, हरभजन गौड़, खुन्नु पाण्डेय, डिप्पुल पाण्डेय, युवा मोर्चा के महानगर जिलाध्यक्ष रवि शर्मा, जिलाध्यक्ष सुनील मिश्र, सार्थक तिवारी, विद्याकान्त द्विवेदी, आकाश मणि त्रिपाठी सहित कार्यकताओं ने अपनी श्रद्वांजलि दी।

Advertisements

Comments are closed.